खुलासा: मामी के प्यार में पागल भांजे ने मामा को गोली मारकर रास्ते से हटाया, शूटर दोस्त संग चढ़ा पुलिस के हत्थे

punjabkesari.in Saturday, Nov 26, 2022 - 12:59 AM (IST)

कुशीनगर: उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में तरया सुजान थानाक्षेत्र में पुलिस ने क्षेत्र के अहिरौली दान निवासी विसागर की हत्या का खुलासा कर दिया है। जिसकी कहानी ने मामा भांजे के रिश्ते को शर्मसार कर दिया हैं। दरअसल, मामी के प्यार में पागल भांजे ने अपने शूटर दोस्त के साथ मिलकर अपने मामा की हत्या को अंजाम दिया था। पुलिस ने हत्यारों पर 50 हजार का इनाम रखा था। जिसमे मामी- भांजे को पुलिस ने हिरासत में लिया है। पुलिस ने बृहस्पतिवार देर रात शूटर को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया। पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया हैं।

बता दें कि बीते 13 नवंबर को सिसवा मार्ग पर अहिरौलीदान के लोकनहा टोला रहने वाले टेन्ट हाउस कारोबारी की हत्या हुई थी। व्यापारी विसागर को मोटरसाइकिल सवार दो अज्ञात बदमाशों ने गोली मार दी। घटना को अंजाम देने के बाद वे फरार हो गए थे। जिसके बाद पुलिस की 4 टीमें मामले के खुलासे में जुटी थी। कुशीनगर एसपी ने हत्यारों को गिरफ्तार करने के लिए दोनों अपराधियों पर 25-25 हज़ार का इनाम भी घोषित किया। पुलिस की छानबीन में मामला मृतक की पत्नी और भांजे के बीच प्रेम प्रसंग से जुड़ा हुआ पाया गया। पुलिस के अनुसार गहनता से जांच में मिला कि बिहार का रहने वाला रवि और उसकी मामी जो मृतक की पत्नी है के बीच अवैध प्रेम प्रसंग चल रहा था।

दोनों के बीच में आरोपी का मामा मृतक विसागर रोड़ा बन रहा था जिसकी वजह से भांजे ने अपनी मामी के साथ मिलकर मामा को ही ठिकाने लगाने का प्लान बनाया। रवि रंजन ने अपने एक सहयोगी रोहित जो बिहार का ही रहने वाला सूटर का काम करने वाला अपराधी था उसके साथ मामा के सिर में गोली मार दिया और वहां से फरार हो गए। सूचना के बाद पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया पर उसकी मौत हो गई। हत्या में शामिल अभियुक्तों में पुलिस को सलेमगढ़ चौराहा के पास से अभियुक्त रवि उर्फ रविरंजन और  उसकी मामी जो मृतक कि पत्नी थी दोनों को गिरफ्तार कर लिया। बीती देर रात पुलिस ने हत्या को अंजाम देने वाले अभियुक्त रवि के दूसरे साथी रोहित को एक मुठभेड़ के दौरान धर दबोचा। पकड़े गए दोनों शातिर बदमाश बिहार राज्य के गोपालगंज के फुलुगनी गांव के रहने वाले हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static