अब भदोही में भी मिले गंगा में बहते हुए मिले आधा दर्जन शव, प्रशासन ने कराया अंत्येष्टि

punjabkesari.in Friday, May 14, 2021 - 11:48 AM (IST)

भदोहीः पूर्वांचल के कई जिलों के साथ भदोही जिले में भी गंगा में शवों के मिलने का सिलसिला शुरू हो गया है। पिछले तीन दिनों में यहां आधा दर्जन शव गंगा में बहते हुए पाए गए हैं। प्रशासन का दावा है कि गंगा में बहते हुए शव को निकलवा कर उनका अंतिम संस्कार करा दिया गया है। गंगा में बहते हुए शवों को देखकर घाटों पर हड़कंप की स्थिति है।

देशभर में फैले कोरोना संक्रमण के बीच एक तरफ जहां मरने वालों की संख्या तेजी से बढ़ी तो वही गंगा में भी बड़े पैमाने पर बहते हुए शव पाए जाने लगे। पूर्वांचल के बलिया, गाजीपुर, वाराणसी और मिर्जापुर सहित कई जिलों में गंगा में बहते हुए शव मिलने पर वहां प्रशासन सतर्क है और मिलने वाले शवों के अंतिम संस्कार में जुटा हुआ है। 

वहीं भदोही के रामपुर गंगा घाट पर गुरुवार को दो शव बहते हुए पाए गए जिसे देखकर घाट वासियों में हड़कंप मच गया। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस और जिला पंचायत राज विभाग को दी, जिसके बाद मौके पर पहुंचे कर्मचारियों ने मिले हुए शवों की जानकारी इकट्ठा करते हुए दावा किया कि दोनों शवों का अंतिम संस्कार करा दिया गया है। इसके साथ ही दो दिन पहले चार और शव मिले थे जिसे लेकर प्रशासन का दावा है कि सभी शवों का अंतिम संस्कार करा दिया गया है और गंगा में जो भी बहते हुए शव मिलेंगे उनका रीति रिवाज के साथ अंतिम संस्कार कराया जाएगा। 

इसके साथ ही जिला प्रशासन ने घाटों की निगरानी में ग्राम पंचायत सचिवों की ड्यूटी लगा दी है और साथ ही उन्हें निर्देश दिया है वह पूरी निगरानी करें, अगर किसी भी व्यक्ति की कोरोना से मौत होती है और उसके परिजन शव लेने से इनकार करते हैं, या वह अंतिम संस्कार करने में अक्षम है तो शासन द्वारा इसके लिए पांच हजार का बजट निर्धारित किया गया है। इस बजट के तहत शवों का अंतिम संस्कार रीति रिवाज के साथ कराया जाए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static