झांसी: गोलीकांड में जख्मी युवक की मौत पर भड़के लोग, जमकर काटा बवाल

6/16/2021 4:22:26 PM

झांसी: उत्तर प्रदेश में झांसी के मऊरानीपुर थानाक्षेत्र में गोलीकांड में जख्मी हुए तीन लोगों में से एक की मौत हो जाने के बाद मामले ने बुधवार को तूल पकड लिया और इलाके में लोग पुलिस व स्थानीय विधायक के खिलाफ नारेबाजी करते हुए सड़क पर उतर आये। पुलिस ने बताया कि कस्बा मऊरानीपुर में हुए दो दिन पहले हुए गोलीकांड में जख्मी हुए दो लोगों में से एक की दिल्ली ले जाते समय मौत हो गयी। यह जानकारी सुबह जब कस्बे के लोगों को हुई तो पूरा मोहल्ला एकत्र हो गया। मौके की नजाकत को देखते हुए कई थानों की पुलिस भी मौके पर मुस्तैद हो गई। लोगों ने पुलिस प्रशासन और स्थानीय विधायक पर आरोपियों को बचाने का आरोप लगाते हुए जमकर बवाल काटा।

बता दें कि  मऊरानीपुर के दुबे चौक निवासी अशोक अग्रवाल व मुकेश अग्रवाल को गोली दो दिन पूर्व देर रात हुए गोलीकांड में गोली लगने के बाद झांसी रेफर कर दिया गया था, अशोक के पेट में गोली लगी थी। मेडिकल कॉलेज में ऑपरेशन के बाद भी अशोक की हालत में सुधार नहीं हो रहा था। इस कारण चिकित्सकों ने अशोक को दिल्ली के लिए रेफर कर दिया था। बीती शाम अशोक के परिजन उन्हें लेकर दिल्ली के लिए रवाना हुए थे। लेकिन दिल्ली पहुंचने से पहले ही देर रात उसकी रास्ते में मौत हो गई। इसकी सूचना बुधवार को सुबह कस्बा मऊरानीपुर पहुंची। उसके बाद स्थानीय लोगो में पुलिस व आरोपीयो के विरुद्ध आक्रोश फूट पड़ा। लोगों और महिलाओं ने स्थानीय विधायक और पुलिस प्रशासन पर आरोपियों को संरक्षण देने की बात कही। लोगों ने यहां तक एलान कर दिया कि यदि पुलिस आरोपित सेठिया परिवार के लोगों को गिरफ्तार नहीं करती है तो पीड़ित पक्ष में पूरे 50 लोगों का परिवार आत्महत्या करने को मजबूर होगा। जनता के आक्रोश को देखते हुए पूरा दुबे चौक छावनी में तब्दील हो गया। सुरक्षा की कमान क्षेत्राधिकारी मऊरानीपुर विवेक सिंह ने अपने हाथों में ले रखी है हालांकि उनके नेतृत्व में कई थानों का पुलिस बल दुबे चौक में तैनात है। वहीं आक्रोशित लोगों ने स्थानीय विधायक बिहारीलाल आर्य ,आरोपियों व पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए सड़कों पर उतरकर जुलूस तक निकाल दिया।

गौरतलब है कि दो दिन पूर्व दरवाजे के बाहर बाइक रखने को लेकर अग्रवाल व सेठिया परिवार में विवाद हो गया था। इसके बाद दोनों पक्षों की गहमागहमी गोलियों की बौछार तक जा पहुंची थी, जिसमें मुकेश व अशोक अग्रवाल गोली लगने से घायल हो गए थे। पुलिस ने मामले में सेठिया परिवार के लोगों समेत 7 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Recommended News

static