पीयूष गोयल की टिप्पणी, कहा- अखिलेश राज में व्याप्त अराजकता से आम आदमी डरा सहमा था

punjabkesari.in Wednesday, Feb 16, 2022 - 07:36 PM (IST)

लखनऊ: केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि 2017 से पहले की समाजवादी पार्टी (SP) सरकार के कार्यकाल में अराजकता और गुंडागर्दी इस कदर व्याप्त थी कि आम आदमी डरा सहमा रहता था, जबकि आज योगी आदित्यनाथ की सरकार में कानून का राज है। गोयल ने बुधवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि 2017 में वे जब चुनाव प्रचार के लिए आए थे तो एक दिन में ही लखनऊ समेत कई जिलों में व्यवपारियों की दिन दहाड़े हत्याएं हुई थी। यूपी में अराजकता चरम पर थी, अपराध चरम पर था, आम आदमी डरा हुआ था। वे खुद लखनऊ में व्यापारी श्रवण साहू के घर गए थे। वह मंजर कितना खौफनाक था। आज उत्तर प्रदेश खुशहाली के रास्ते पर बढ़ चला है। पीएम मोदी के मार्गदर्शन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानून का राज स्थापित किया है। इससे न केवल यहां बड़े पैमाने पर निवेश आया है बल्कि लाखों युवाओं को रोजगार भी मिला है। गुंडाराज से मुक्त हुआ यूपी भारत के विकास की गाथा लिख रहा है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि किसानों के लिए योगी सरकार ने अभूतपूर्व काम किये हैं जो 2017 से पहले आज तक इस प्रदेश में नहीं हुए। उन्होंने कहा कि 2012 से 2017 के बीच गन्ना किसानों को जितना भुगतान किया गया उसका लगभग दोगुना 1.59 लाख करोड़ का भुगतान 2017 से अब तक किया गया जिसमें पिछली सरकार का बकाया भी शामिल है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में औद्योगिक विकास और निवेश का माहौल बनाने में योगी सरकार का जो योगदान रहा उसे पूरा देश याद करेगा। पिछले 5 वर्षों में लगभग तीन लाख करोड़ रुपए से अधिक का निवेश आया। निवेशकों के लिए नियमों का सरलीकरण और अच्छी कानून व्यवस्था और आधारभूत ढांचा तैयार करने में योगी सरकार ने अपनी पूरी ताकत लगा दी।

प्रदेश का इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने में योगी सरकार के योगदान की चर्चा करते हुए उन्होने कहा कि पहले प्रदेश में दो अंतररष्ट्रीय हवाई अड्डे थे जो अब पांच हो गए हैं। पहले एयर कनेक्टिविटी सिर्फ 25 स्थानों तक सीमित थी जबकि आज 75 शहरों से हवाई सुविधा के माध्यम से यूपी जुड़ चुका है। जेवर में बनने वाला अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट तो विश्व में नायाब होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना से जूझते हुए योगी सरकार ने स्वास्थ्य का आधारभूत ढांचा तैयार किया। उन्होंने कहा कि 1947 से अब तक प्रदेश में सिर्फ 12 सरकारी मेडिकल कॉलेज से जबकि पिछले 5 सालों में इनकी संख्या 30 हो गई। इसी तरह एमबीबीएस की सीट 2017 में 1900 हुआ करती थी, जो बढ़कर 3800 हो गयी है।

सपा पर प्रहार करते हुए पीयूष गोयल ने कहा कि जो पार्टी सिर्फ एक परिवार का भला सोच सकती है उसके लिए भाजपा की सबका साथ सबका विकास की सोच समझ के बाहर है। यह तो सिर्फ जनता ही समझ सकती है जिसने योगी सरकार में अपना विश्वास व्यक्त किया। उन्होंने सपा के बारे में आगे कहा कि गुंडों, माफिया और अपराधियों के दम पर सरकार चलाना एक बात है लेकिन 24 करोड़ जनता के हित के बारे में सोचना, यह सिफर् भाजपा ही कर सकती है। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static