PM मोदी ने विपक्ष पर कसा तंज, कहा- ये चौथे चरण से ही EVM को गाली देना शुरू कर दिए हैं

punjabkesari.in Thursday, Feb 24, 2022 - 05:25 PM (IST)

प्रयागराज: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश में चार चरणों के विधानसभा चुनाव हो चुके हैं और लोग भाजपा और इसकी सहयोगी पार्टियों के उम्मीदवारों को भरपूर आशीर्वाद दे रहे हैं, जिसे देखते हुए विपक्ष ने चौथे चरण से ही ईवीएम को गाली देना शुरू कर दिया है। 

यहां गंगापार फाफामऊ के बेला कछार में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने लोगों से कहा कि एक्जिट पोल का इंतजार मत कीजिए, जब ये (विपक्ष) ईवीएम को गाली देने लगें तो समझ लीजिए इनका खेल खत्म। रोजगार के मुद्दे पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “आज ये नौकरियों के नाम पर यूपी के लोगों को धोखा दे रहे हैं। सपा ने अपने 10 साल के शासन में केवल दो लाख लोगों को नौकरी दी और वह भी भाई भतीजावाद, जातिवाद और पैसों के बंडल पर।” उन्होंने दावा किया कि योगी सरकार ने पांच साल में पांच लाख नौजवानों को सरकारी नौकरी दी। मोदी ने आरोप लगाया कि नौकरी के नाम पर आयोग में बैठे लोग सिफारिश, जातिवाद, क्षेत्रवाद और नोटों के बंडल को योग्यता मानते थे। उन्होंने कहा कि इन लोगों ने अपने कारोबारियों को आयोग के जिम्मेदार पदों पर बैठाकर जो खेल खेला है, उससे कितने ही होनहार लोगों का भविष्य चौपट हुआ। प्रधानमंत्री ने कहा, “घोर परिवारवादी कभी सशक्त और आधुनिक उत्तर प्रदेश का निर्माण नहीं कर सकते। ये ऐसे लोग हैं, जो घोर अंधविश्वासी भी हैं। ये लोग नोएडा नहीं जाते, बिजनौर नहीं जाते। नोएडा और बिजनौर से आने वाले टैक्स से मलाई मारने को तैयार हैं, लेकिन कुर्सी के लिए वहां जाने को तैयार नहीं।” 

उन्होंने कहा कि पहले यूपीपीएससी और यूपीएससी का पाठ्यक्रम अलग-अलग था, हमारी सरकार ने छात्रों की परेशानी समझी और दोनों परीक्षाओं का पाठ्यक्रम लगभग एक जैसा कर दिया। मोदी ने कहा कि छात्र अब उतनी ही मेहनत से दोनों ही परीक्षा की तैयारी कर रहे। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने ग्रुप सी और डी की नौकरी से इंटरव्यू खत्म किया, जिसका लाभ अनेक युवकों को मिला। प्रयागराज को लेकर प्रधानमंत्री ने कहा, “एक कुंभ मेले ने सारी दुनिया की सोच बदल दी। जिन्हें प्रयागराज के नाम से ही चिढ़ है, जिनके कान प्रयागराज नाम से खड़े हो जाते हैं, वे प्रयागराज का विकास करेंगे क्या।” उन्होंने आरोप लगाया कि पहले की सरकारों ने प्रदेश के अन्य जिलों की तरह प्रयागराज को भी विकास के लिए तरसाकर रखा। मोदी ने कहा, “इन घोर परिवारवादियों ने इतने दशकों तक संप्रदायवाद, क्षेत्रवाद की राजनीति की। इनकी राजनीति का दायर बहुत संकीर्ण है।” उन्होंने दावा किया कि भाजपा की राजनीति का दायर विस्तृत और सर्व समावेशी है। प्रधानमंत्री ने कहा, “इक्कीसवीं सदी का यूपी आकांक्षी है। बड़े सपने लेकर आगे बढ़ रहा है। ‘डबल इंजन' की सरकार यूपी को विकसित बनाने में दिन-रात जुटी हुई है। यह आकांक्षा पूरी हो, इसलिए यूपी में भाजपा की सरकार जरूरी है।” मोदी ने आरोप लगाया कि पहले ज्यादार सरकारी परियोजनाओं के ठेके घोर परिवारवादियों को दिए जाते थे और सीवर लाइन बिछाने जैसे छोटे बड़े कामों का ठेका भी उन्हीं को मिलता, इसलिए काम भी घटिया तरीके का होता था और कोई कार्रवाई नहीं होने से ठेकेदार काम अधूरा छोड़कर और पूरे पैसा लेकर भाग जाते थे। उन्होंने दावा किया कि यूपी के हर जिले का ऐसा ही हाल था और यहां के बाहुबली, माफिया की मर्जी ही सर्वोपरि थी।

 प्रधानमंत्री ने कहा कि लेकिन, योगी सरकार के आने के बाद माफिया जेल गए और ठेकेदारी में भी ये लोग पांच साल के लिए ताले लगाकर बैठ गए, पर इन्हें सत्ता मिली तो ये ताले दोबारा खोलकर आएंगे। देश में हिंदू धार्मिक स्थलों के विकास पर मोदी ने कहा कि कोरोना से पहले की बात करूं तो मुस्लिमों के पवित्र स्थान मक्का में दो करोड़ से अधिक लोग हज करने गए थे, वेटिकन सिटी में एक करोड़ लोग चर्च-पोप के दर्शन करने गए थे। उन्होंने कहा कि इन देशों ने लोगों को बेहतरीन सुविधाएं दी हैं और भारत में भी हम इसी दिशा में काम कर रहे हैं, लेकिन कुछ लोग से सांप्रदायिकता के चश्मे से देखने की कोशिश करते हैं। मोदी ने कहा, “काशी विश्वनाथ कॉरीडोर के विकास के बाद वहां जाने वाले लोगों की संख्या बहुत बढ़ गई है। बदरीनाथ और केदारनाथ में विकास कार्यों के बाद वहां जाने वाले लोगों की संख्या बहुत बढ़ गई है।” उन्होंने दावा किया कि भक्तों, यात्रियों, पर्यटकों की संख्या बढ़ती है तो लोगों को रोजी-रोटी मिलती है, उनकी कमाई बढ़ती है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम जो काम कर रहे हैं, पूरा हिंदुस्तान उस तरफ आने वाला है और ये स्थान आर्थिक गतिविधि का बड़ा केंद्र बनने वाले हैं। प्रयागराज में विकास पर मोदी ने कहा, “तीन साल के भीतर ही प्रयागराज एयरपोर्ट पर 10 लाख से अधिक यात्रियों की आवाजाही हो चुकी है। लखनऊ और वाराणसी के बाद यह तीसरा प्रमुख एयरपोर्ट बन गया है।” 

उन्होंने कहा कि सरकार उत्तर प्रदेश के हर हिस्से को जोड़ना चाहती है और यही कारण है कि योगी सरकार आधुनिक एक्सप्रेसवे व एयरपोर्ट बनवा रही है। प्रधानमंत्री ने दावा किया कि राज्य में विकास की गति न रुके, इसके लिए ‘डबल इंजन' की सरकार बनना जरूरी है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static