प्रयागराज: संगम तट पर हुआ विशेष अनुष्ठाऩ, कोरोना महामारी से मिलेगा  निजात

punjabkesari.in Saturday, May 01, 2021 - 11:50 AM (IST)

प्रयागराज: धर्म और आस्था की नगरी प्रयागराज में वैसे तो लोग हर तरह के अनुष्ठान कराने दूरदराज से आते हैं लेकिन इन दिनों कोरोना महामारी के चलते श्रृंगवेरपुर धाम धाम से आए संत संगम तट पर त्रिवास्तक यज्ञ आहुति दे रहे हैं इनका मानना है कि इस यज्ञ को करने से कोरोना वायरस जैसी महामारी से निजात मिलेगी।

श्रृंगवेरपुर धाम से आए संत शांडिल्य जितेंद्र त्रिपाठी ने विश्वव्यापी कोरोना महामारी जो अनियंत्रित होती जा रही है। उस पर काफी चिंतन मनन किया है। इनका मानना है कि रावण संहिता में महामारी से मुक्ति हेतु बताए गए अति विशिष्ट त्रिवास्तक पूजन का 7 दिनों तक करने से बड़ी से बड़ी महामारी से निजात मिलती है. भगवान राम ने वनवास जाते समय यही से नाव से गंगा पार की थी. इसलिए धाम पर ही अपने आश्रम में कुशल आचार्य और बटुक ब्राह्मणों से सानिध्य में स्वयं संकल्प करके यज्ञ हवन कराया है। रावण संहिता में वर्णित गुप्त मंत्रों से प्रयागराज के संगम तट पर पूर्ण आहुति देकर इस यज्ञ का समापन किया गया. संत शांडिल्य का कहना है कि इस दिव्य अनुष्ठान से कोरोना महामारी पर निश्चित निश्चित ही विराम लगेगा। जिससे शांति स्थापित होगी और लोग स्वस्थ होंगे।

 

 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static