देश में 2021 में 49 हाथी शिकारियों के हाथों मारे गये : आरटीआई जवाब

punjabkesari.in Friday, Jan 21, 2022 - 10:11 PM (IST)

नोएडा, 21 जनवरी (भाषा) देश में 2021 में शिकारियों के हाथों 49 हाथी मारे गये । एक आरटीआई आवेदन पर केंद्र सरकार की एक एजेंसी यह जानकारी दी है।
वन्यजीव अपराध नियंत्रण ब्यूरो (डब्ल्यूसीसीबी) ने बताया कि सबसे अधिक नौ हाथी असम में मारे गये। पश्चिम बंगाल , ओडिशा और तमिलनाडु में आठ -आठ, कर्नाटक एवं उत्तराखंड में तीन-तीन हाथियों को मारा गया।

उसने बताया कि केरल और अरूणाचल प्रदेश में दो-दो, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, बिहार, मेघालय, छत्तीसगढ़ एवं महाराष्ट्र में एक-एक हाथी को मारा गया।
नोएडा के सामाजिक एवं पशु अधिकार कार्यकर्ता रंजन तोमर ने सूचना के अधिकार के तहत ब्यूरो से यह जानकारी मांगी थी। डब्ल्यूसीसीबी पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के अंतर्गत आता है।

ब्यूरो के जवाब के अनुसार, हाथियों को मार डालने के संबंध में सबसे अधिक 17 लोग तमिलनाडु में गिरफ्तार किये गये। असम में 15, ओडिशा में 13, पश्चिम बंगाल में 11, केरल में पांच, उत्तराखंड एवं बिहार में चार -चार , महाराष्ट्र में तीन, मेघालय एवं राजस्थान में दो-दो तथा कर्नाटक में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया।
शिकार की स्थिति पर रंजन ने चिंता प्रकट की और कहा कि हाथियों की उनके प्राकृतिक आवास में सुरक्षा सुनिश्चित करने की जरूरत है।

प्रोजेक्ट एलीफैंट की 2017 की गणना के अनुसार भारत में सबसे अधिक एशियाई हाथी यानी करीब 30000 हाथी हैं, जो दुनिया के कुल हाथी का 60 फीसद है।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News

static