लखीमपुर खीरी जाने के लिए लखनऊ पहुंच रहे राहुल गांधी को हवाई अड्डे पर रोकने की तैयारी, कांग्रेस के निशाने पर योगी सरकार

punjabkesari.in Wednesday, Oct 06, 2021 - 12:35 PM (IST)

लखनऊ: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी अपने कुछ सहयोगी नेताओं के साथ लखीमपुर खीरी जाने के लिए बुधवार को लखनऊ पहुंच रहे हैं, लेकिन प्रशासन ने उन्हें यहीं रोकने का निर्णय किया है। लखनऊ के पुलिस आयुक्त डी. के. ठाकुर ने संवाददाताओं को बताया कि लखीमपुर खीरी और सीतापुर जिला प्रशासन ने आग्रह किया है कि गांधी को किसी भी हालत में इन जिलों में ना आने दिया जाए। उन्होंने कहा "अपरिहार्य परिस्थिति में राहुल गांधी लखनऊ आते हैं तो हम लोग कोशिश करेंगे कि हवाई अड्डे पर ही उनसे मिलें। हम उनसे आग्रह करेंगे कि वह लखीमपुर खीरी या सीतापुर न जाएं। सीतापुर के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने मुझे लिखित रूप से अवगत कराया है कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा वहां पर हैं और राहुल गांधी और अन्य कांग्रेस नेताओं के आने से वहां कानून-व्यवस्था की स्थिति खराब हो सकती है।

उन्होंने हम से आग्रह किया है कि किसी भी परिस्थिति में राहुल गांधी को सीतापुर ना आने दिया जाए।" कांग्रेस के सूत्रों के मुताबिक पार्टी महासचिव के. सी. वेणुगोपाल ने राहुल की अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल के लखीमपुर खीरी जाने की इजाजत मांगी थी, जिसे स्थानीय प्रशासन ने जिले में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू होने का हवाला देते हुए नकार दिया। वाद्रा सोमवार तड़के से ही सीतापुर पुलिस की हिरासत में है पुलिस ने उनके तथा 10 अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। उन्हें सोमवार तड़के लखीमपुर खीरी जाते वक्त रास्ते में सीतापुर में हिरासत में ले लिया गया था। वाद्रा का आरोप है कि उन्हें किसी कानूनी आधार के बगैर संवैधानिक अधिकारों का हनन करते हुए सीतापुर पीएसी परिसर में कैद कर दिया गया है।

गौरतलब है कि पिछले रविवार को लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया इलाके में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को किसानों द्वारा काले झंडे दिखाए जाने के मामले में भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। वाद्रा सोमवार तड़के पार्टी के वरिष्ठ नेता दीपेंद्र हुड्डा तथा कांग्रेस की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत कुछ नेताओं के साथ मृतक किसानों के परिजन से मिलने के लिए लखीमपुर खीरी जा रही थीं लेकिन उन्हें रास्ते में सीतापुर जिले में हिरासत में ले लिया गया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static