विश्वविद्यालय में भ्रष्टाचार हुआ है तो लिखित जानकारी दें, जांच निश्चित: राम नाईक

6/20/2019 5:21:07 PM

झांसीः उत्तर प्रदेश के झांसी स्थित बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में पुस्तक के विमोचन में हिस्सा लेने आए राज्यपाल राम नाईक ने विश्वविद्यालय में भ्रष्टाचार के मामले पर कहा कि यदि ऐसा कुछ है तो लिखित में सूचना दें, जांच अवश्य कराई जाएगी।

विश्वविद्यालय में हुए भ्रष्टाचार का अभी तक खुलासा नहीं होने के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में नाईक ने कहा कि विवि में कहीं कोई भ्रष्टाचार हुआ है तो आप लिखित में पूरी जिम्मेदारी लेते हुए मुझे इस बारे में सूचना दें। मैं भ्रष्टाचार के मामले में बहुत सख्त रहा हूं, कार्रवाई जरूर होगी। निजी विवि में अनुशासन मामले पर सरकार के कैबिनेट में अध्यादेश लाने के प्रस्ताव के संबंध में राज्यपाल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने कैबिनेट में निजी विश्वविद्यालयों के लिए एक अध्यादेश लाने का प्रस्ताव पेश किया है। जो अध्यादेश लाया गया है वह अभी तक मेरे पास नहीं पहुंचा है, जब वह मेरे पास पहुंचेगा उसके बाद अध्ययन करके ही मैं इस बारे में कोई प्रतिक्रिया दे पाऊंगा। मोटे तौर पर निजी विश्वविद्यालयों में भी अनुशासन होने की भूमिका से यह अध्यादेश लाया गया है लेकिन इसका अध्ययन करने के बाद ही मैं कुछ कह पाऊंगा।

‘एक देश ,एक चुनाव' पर दी प्रतिक्रिया
उन्होंने ‘एक देश ,एक चुनाव' के सवाल पर कहा कि पीएम मोदी ने देश और सभी राजनीतिक दलों के सामने यह विचार रखा है और विचारों के आदान प्रदान के बाद ही कोई अंतिम फैसला हो पाएगा ऐसा मुझे लगता है। ऐसे प्रयास पहले ही होते रहे हैं, लेकिन राजनीतिक कारणों से वह बीच में ही विफल हो गए। यदि इस मसले पर कुछ सकारात्मक होता है तो पूरे देश के लिए लाभदायक होगा। इसके लिए सभी का सहयोग जरूरी है। इस मामले पर राजनीतिक दल किस तरह से सहयोग देते हैं यह तो संसद में चर्चा के बाद ही मालूम हो पाएगा।


Deepika Rajput