नागरिकता कानून के दौरान हुए दंगे BJP-RSS की देन: राम गोविंद चौधरी

punjabkesari.in Thursday, Jan 02, 2020 - 03:29 PM (IST)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बुधवार को सपा मुख्यालय पर पत्रकारों से बातचीत में रामगोविंद चौधरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार विपक्ष की बात नहीं सुनना चाहती है। सदन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विषय से अलग हटकर बोलते रहे।  चौधरी ने कहा कि 2017 में 23 दिन सदन चलाए 2018 में 25 दिन और 2019 में सिर्फ 23 दिन सत्र चला। इसमें गांधी जयंती का विशेष सत्र भी शामिल है। रामगोविंद चौधरी ने सरकार पर आरोप लगाया कि सीएए ,एनआरसी पर विरोध प्रदर्शन हुए तो दमनकारी नीति अपनाई गई। हमने सीएए पर शांतिपूर्ण धरना दिया और जो दंगे हुए वह भाजपा की देन है।

बता दें कि हमारा विश्वास अहिंसा समानता धर्म निरपेक्षता  में है। जामिया यूनिवर्सिटी में दंगे का वीडियो आया है। जिसमें आरएसएस के लोग पुलिस की वर्दी में दिख रहे हैं। इन्होंने कहा कि यदि अगर सरकार हमारी बात नहीं सुनती है।  धरना प्रदर्शन आंदोलन और सत्याग्रह कर के अपनी बात पहुंचाएंगे। जामिया एएमयू नदवा को छोड़ दें तो देश के अन्य शिक्षण संस्थानों के जितने छात्र सीएए के खिलाफ उतरे उनमें 99 फीसद हिंदू थे।


चौधरी ने  कहा कि जब देश की आजादी के लिए संघर्ष हुआ तो अंग्रेजों ने भी संपत्ति से रिकवरी नहीं की थी लेकिन यह सरकार अंग्रेजों से बढ़कर है। चौधरी ने कहा कि भाजपा अपनी नाकामी छिपाने के लिए सीएए और एनआरसी को लेकर देश को बर्बाद करने का काम किया है। भाजपा गांधी की बात करती और धर्म निरपेक्षता का गला घोंटती है। शिक्षामित्र अनुदेशक, लेखपाल सभी के खिलाफ है। उनकी आवाज को कुचला जा रहा है। महंगाई बढ़ रही है। अर्थव्यवस्था बर्बाद हो गई है। हम गांधी लोहिया जय प्रकाश आचार्य नरेंद्र देव की राह पर चलने वाले लोग हैं


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Ajay kumar

Related News

Recommended News

static