अखिलेश के लिए खतरे की घंटी है मुस्लिम नेताओं के बगावती सुर! वरिष्ठ मुस्लिम नेता सिकंदर अली ने सपा से दिया इस्तीफा

punjabkesari.in Wednesday, Apr 20, 2022 - 12:21 PM (IST)

सहारनपुर: यूपी विधानसभा चुनाव में हार मिलने के बाद से ही समाजवादी पार्टी में विरोधाभास की खबरें आनी शुरू हो गई हैं। चाचा शिवपाल सिंह की नाराजगी के बाद आजम खान के समर्थकों ने सपा अध्यक्ष पर सवाल कई खड़े किए हैं। तो वहीं एक के बाद एक मुस्लिम नेताओं के बगावती सुर तेजी से मुखर हो रहे हैं। इसी कड़ी में सहारनपुर के वरिष्ठ सपा नेता सिकंदर अली ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर गंभीर आरोप लगाते हुए ने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है।

सपा नेता सिकंदर अली ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर मुस्लिम समाज की अनदेखी करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मुस्लिम नेताओं के खिलाफ हो रही कार्रवाई पर अखिलेश यादव की चुप्पी से उन्हें घुटन महसूस हो रही थी। उन्होंने कहा कि आजम खान की गिरफ्तारी समेत कई मामलों में अखिलेश यादव चुप्पी साधे हुए हैं। उन्होंने कहा कि यह वह सपा नहीं है जो मुलायम सिंह यादव के समय थी। सिकंदर अली का आरोप है कि मुस्लिम समाज के उत्पीड़न के मामलों पर सपा प्रमुख कोई भी प्रतिक्रिया नहीं देते, जबकि मुसलमानों ने उन्हें हमेश वोट दिया। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव चापलूसों और चाटुकारों से घिरे हुए हैं।

बड़ा आरोप लगाते हुए सिकंदर अली ने कहा कि अखिलेश यादव ने सिर्फ मुस्लिमों को वोट बैंक समझा। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि बीजेपी और मुसलमानों की दुश्मनी कराने का काम भी अखिलेश यादव ने ही किया है। इसी वजह से मैंने पार्टी छोड़ी है, जो नेता अपने विधायकों और सांसदों की लड़ाई नहीं लड़ सकता वह आम कार्यकर्ताओं की क्या सुनेगा। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में बसपा की तरह ही मुसलमान समाजवादी पार्टी को समाप्तवादी पार्टी बनाने का काम करेगा। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static