UP की 11 सीटों पर छाया लॉकडाउन का संकट, स्नातक और शिक्षक MLC चुनाव पर लगी रोक

4/5/2020 12:29:10 PM

लखनऊ: कोरोना महामारी की चेन को तोड़ने के लिए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन घोषित किया गया है। ऐसे में उत्तर प्रदेश में स्नातक और शिक्षक MLC चुनाव पर भी संकट के बादल मंडराने लगे हैं। इसी क्रम में बढ़ते कोरोना के मामलों और लॉकडाउन को देखते हुए यूपी चुनाव आयोग ने चुनाव की प्रक्रिया पर रोक लगा दी है। यह आदेश शनिवार को मुख्य निवार्चन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला की ओर से दिया गया।
PunjabKesari
मुख्य निवार्चन अधिकारी ने जारी किया पत्र
बता दें कि उत्तर प्रदेश में स्नातक और शिक्षक क्षेत्र की 11 सीटों पर कार्यरत सदस्यों का कार्यकाल 6 मई को समाप्त हो रहा है। इनमें से 6 सीटें शिक्षक निर्वाचन, और पांच सीटें स्नातक निर्वाचन की हैं। रिक्त हो रही इन सीटों पर चुनाव अप्रैल महीने में ही संपन्न कराए जाने की योजना थी। चुनाव संपन्न कराने के लिए निर्वाचन आयोग ने भी लगभग सभी तैयारियां पूरी कर ली थीं। लेकिन कोरोना वायरस के कारण ऐन वक्त पर निर्वाचन प्रक्रिया पर रोक लगा दी गई है। यह जानकारी मुख्य निवार्चन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने पत्र जारी कर दिया।

उत्तर प्रदेश में 100 विधान परिषद सीटें
गौरतलब हो कि उत्तर प्रदेश में कुल 100 विधान परिषद सीटें हैं। इनमें से बीजेपी के पास मात्र 21 विधान परिषद सदस्य हैं। जबकि समाजवादी पार्टी के पास 55 सदस्य हैं और बसपा के पास 8 विधान परिषद सदस्य हैं। इसके अलावा कांग्रेस के पास 2 सदस्य हैं, जिनमें से दिनेश प्रताप सिंह ने हाल ही में बीजेपी का दामन थाम लिया है। इनके अलावा 5 सदस्य स्नातकों के द्वारा चुने जाते हैं और 6 सदस्य शिक्षक संघ के द्वारा चुनकर आते हैं। इन सदस्यों के क्षेत्र कई जिले और कई मंडलों को मिलकर बनते हैं।

 

 

 

 


Tamanna Bhardwaj

Related News