जो हिजाब छूने की हिम्मत करेगा, उसके हाथ काट दिए जाएंगे, सपा नेता रुबीना खानम ने दिया विवादित बयान

punjabkesari.in Saturday, Feb 12, 2022 - 08:00 PM (IST)

लखनऊ: हिजाब विवाद का मामला कर्नाटक से अब यूपी की राजनीति में प्रवेश कर चुका है। समाजवादी पार्टी की नेता रुबीना खानम ने इस मामले पर विवादित बयान देते हुए कहा है कि "हिजाब विवाद हमारी बेटी के स्वाभिमान पर हमला है। अगर कोई हमारे हिजाब को छूता है, तो हम उनके हाथ काट देंगे।

सपा नेता ने कहा कि  तिलक, पगड़ी और हिजाब जैसे धार्मिक प्रतीक भारतीय संस्कृति का हिस्सा है। जो भी महिलाओं के हिजाब छूने की हिम्मत करेगा, उसके हाथ काट दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि हिजाब पर हमला करने वाले 'कलयुग के रावण' हैं। बता दें कुंडापुरा कॉलेज के अंदर हिजाब पहनने की अनुमति नहीं देने वाली छह छात्राओं ने कॉलेज के आदेश को चुनौती देते हुए कर्नाटक उच्च न्यायालय का रुख किया। रुबीना खानम ने कहा, "हिजाब विवाद हमारी बेटी के स्वाभिमान पर हमला है। अगर कोई हमारे हिजाब को छूता है, तो हम उनके हाथ काट देंगे। भारत एक विविध राष्ट्र है। तिलक, पगड़ी और हिजाब हमारी संस्कृति का हिस्सा हैं। इन पर राजनीतिकरण नीचता का प्रतीक हैं। क्या ये कलियुगी रावण हमें हमारे हिजाब का चीरहरण करेंगें ? महिलाओं को कम आंकने की गलती मत करो। हम रजिया सुल्तान और झांसी की रानी बनकर हिजाब पर हाथ डालने वालों के हाथ काट देंगें।"

वहीं, गुरुवार को कर्नाटक उच्च न्यायालय ने धर्म की परवाह किए बिना सभी छात्रों को अगले आदेश तक कक्षाओं के भीतर हिजाब, भगवा शॉल, झंडे नहीं पहनने का आदेश दिया। HC का आदेश कर्नाटक सरकार से शैक्षणिक संस्थानों को फिर से खोलने और छात्रों को कक्षाओं में लौटने की अनुमति देने का आग्रह करता है। कर्नाटक HC सोमवार - 14 फरवरी को दोपहर 2:30 बजे मामले की सुनवाई जारी रखेगा। जवाब में कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई ने घोषणा की कि सोमवार से कक्षा 9 और कक्षा 10 के छात्रों के लिए स्कूल फिर से खुलेंगे, हालांकि, विश्वविद्यालय और कॉलेज 16 फरवरी तक बंद रहेंगे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static