सौतेली मां ने पार की क्रूरता की हदें! 9 साल की बच्ची के शरीर पर गहरे घाव चीख-चीख कर बता रहे हैवानियत की कहानी

punjabkesari.in Friday, Jul 01, 2022 - 01:43 PM (IST)

नोएडा: वैसे तो मां को भगवान का दूसरा रूप कहा जाता है, लेकिन यूपी के नोएडा से एक मां की ऐसी हैवानियत सामने आई है, जिसे सुनकर किसी की भी रूह कांप जाए। ताजा मामला यूपी के नोएडा से है। जहां 9 साल की बच्ची को एक मां तार और चिमटे से बेरहमी से पीटती है। ऐसे में बच्ची ने वीडियो वायरल कर गुहार लगाई है। वीडियो में बच्ची के शरीर पर की गई हैवानियत को साफ तौर पर देखा जा सकता है। बच्ची का वीडियो सोशल मीडिया जमकर वायरल हो रहा है। इस वीडियो पर संज्ञान लेते हुए पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

सेक्टर-113 कोतवाली क्षेत्र की रहने वाली मासूम बच्ची सेक्टर-73 स्थित यदु पब्लिक स्कूल में कक्षा 2 की छात्रा है। गर्मी की छुट्टियों के बाद जब बच्ची स्कूल पहुँची तो टीचर्स ने नोटिस किया कि बच्ची क्लास में बहुत सहमी-सहमी सी रहती है। टीचर्स ने जब इस बारे में बच्ची से बात करने की कोशिश की तो बच्ची रोने लगी और कुछ ठीक से बता नहीं पाई। ऐसे में टीचर्स ने तुरंत प्रिन्सिपल को और फिर प्रिन्सिपल ने स्कूल प्रबंधन को इस बच्ची के बारे में सूचना दी। स्कूल प्रबंधन ने तत्परता दिखाते हुए जब एक प्रोफ़ेसशनल काउंसिलर से बच्ची की बात कराई तो बच्ची ने जो बताया उसे सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे।

बच्ची ने बताया कि उसकी माँ उसे चिमटे और लोहे के तार से पीटती है। और तो और वो उसकोदातों से काटती हैं। बच्ची की मानें तो बर्बरता का यह दौर कई हफ़्तों से चल रहा है जिसके कारण बच्ची के सिर से लेकर जिस्म के बाक़ी हिस्सों में काफ़ी चोटें आइ हैं। बच्ची के शरीर पर चोटों और ज़ख़्म के निशान किसी का भी दिल दहला देने के लिए काफ़ी हैं।

बच्ची के बताने के फ़ौरन बाद स्कूल प्रबंधन ने बच्ची की माँ को स्कूल बुलाकर उनका पक्ष जानना चाहा तो वह कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाई। उन्होंने बताया कि होमवर्क पूरा न करने पर वह मासूम की कभी-कभी पिटाई कर देती हैं, लेकिन बच्ची के शरीर पर जो चोट के निशान दिख रहे हैं वह फोड़े और फुंसी के हैं। स्कूल प्रबंधन ने मामले की गम्भीरता को देखते हुए पुलिस को पूरी घटना की सूचना दी और बच्ची के फ़ोटोज़ और विडीयो स्टेट्मेंट उपलब्ध कराए। जिसके बाद नोएडा पुलिस ने त्वरित कार्रवाईकरते हुए मामला दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है और फ़िलहाल बच्ची को बाल गृह भेज दिया है।

यदु पब्लिक स्कूल की निदेशक कुंज यादव ने बताया कि स्कूल प्रबंधन बच्चों की पढ़ाई के साथ-साथ उनकी ओवरऑल वेलबींग को लेकर काफ़ी सतर्क रहता है। बच्चों की रेगुलर काउंसिलिंग हमारे इन्हीं प्रयासों का एक हिस्सा है। आम तौर परऐसे मामलों में स्कूल प्रबंधन पुलिस-प्रशासन के पास जाने से बचते हैं लेकिन हमने बाक़ायदा पुलिस को सूचना दी और पुलिस- प्रशासन ने भी पूरी तत्परता दिखाते हुए बच्ची की सहायता की जिसके लिए हम उनके आभारी हैं। हम बस यही चाहते हैं कि बच्ची स्वस्थ और सुरक्षित रहे।

पुलिस की प्राथमिक जाँच में पता चला है कि ये मासूम बच्ची मूलरूप से हरियाणा की रहने वाली है। बच्ची शायद अनाथ है और कुछ साल पहले भटकते- भटकते वृंदावन पहुंच गई थी। जहां से पुलिस ने रेस्क्यू कर उसे मथुरा के बाल गृह भेज दिया था।वहाँ से इस महिला ने इस बच्ची को गोद ले लिया और अपने साथ लेकर नोएडा आ गई।महिला का क़रीब चार साल पहले अपने पति से अलगाव हो गया है और घर में उसके और इस बच्ची के अलावा उसके ससुर भी रहते हैं।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static