जो टोपी के बारे में न जाने क्या-क्या कहते थे, वे आज खुद टोपी पहने बैठे हैं… अखिलेश ने BJP पर ली चुटकी

punjabkesari.in Wednesday, Apr 06, 2022 - 09:43 PM (IST)

कन्नौज: समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 42वें स्थापना दिवस के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई पार्टी नेताओं के भगवा टोपी पहनने पर सत्ताधारी पार्टी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जो लोग सपा की लाल टोपी पर न जाने क्या-क्या कहते थे वे आज खुद टोपी पहने बैठे है।

सपा अध्यक्ष ने यहां पत्रकारों से बात करते हुए स्थापना दिवस समारोह में भाजपा नेताओं की तस्वीर का जिक्र करते हुए कहा जो लोग समाजवादी पार्टी की लाल टोपी के बारे में न जाने क्या-क्या कहते थे, वे आज टोपी लगाकर बैठे हैं। बाद में समाजवादी पाटी ने अखिलेश के हवाले से टि्वट करते हुए कहा,'' मुझे खुशी है कि उन्होंने लाल टोपी नहीं पहनी। आज उन्होंने कोई और टोपी पहन ली, (लेकिन) सिध्दांतों पर (वे) कैसे खड़े रहेंगे ? खाली टोपी पहनने से कुछ नहीं होगा।'' सपा नेताओं की लाल टोपियों पर भाजपा नेताओं ने सवाल उठाये थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसकी तुलना रेड अलर्ट के साथ की थी।

गौरतलब है कि पिछले साल सात दिसंबर को गोरखपुर में प्रधानमंत्री ने समाजवादी पार्टी (सपा) पर हमला करते हुए कहा था कि लाल टोपी वाले उत्तर प्रदेश के लिए रेड एलर्ट 'खतरे की घंटी' हैं और वे आतंकवादियों को जेल से छुड़ाने के लिए सत्ता हासिल करना चाहते हैं। प्रधानमंत्री के इस रेड एलर्ट वाले बयान पर पलटवार करते हुए समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने टिवट कर कहा था, ''भाजपा के लिए ‘रेड एलर्ट' है महंगाई का, बेरोज़गारी-बेकारी का, किसान-मज़दूर की बदहाली का, हाथरस, लखीमपुर, महिला एवं युवा उत्पीड़न का, बर्बाद शिक्षा, व्यापार एवं स्वास्थ्य का, और ‘लाल टोपी' का, क्योंकि यही चीजें ही इस बार भाजपा को सत्ता से बाहर करेंगी। लाल का इंक़लाब होगा, 22 में बदलाव होगा''

इसस पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 24 फरवरी 2021 विधानसभा में कहा था कि कभी हमारी इस विधायिका को लोग यह न मान लें कि यह ड्रामा कंपनी है। उन्होंने कहा कि कोई लाल टोपी, कोई नीली टोपी, कोई पीली टोपी, कोई हरी टोपी पहन कर आ गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static