सिख विरोधी दंगा मामले में दो और गिरफ्तार, पुलिस ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा जेल

punjabkesari.in Wednesday, Jul 06, 2022 - 06:29 PM (IST)

कानपुर: वर्ष 1984 में हुए सिख विरोधी दंगों के दौरान कानपुर में हुई हिंसा के मामलों की जांच कर रहे विशेष जांच दल(एसआईटी) ने दो और अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। एसआईटी अब तक कानपुर में हुए सिख विरोधी दंगों के मामले में 13 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। एसआईटी के उप महानिरीक्षक बालेंद्र भूषण सिंह ने बताया कि नौबस्ता थाने में दर्ज दंगों से संबंधित एक अन्य मामले में बुधवार को सिद्ध गोपाल गुप्ता उर्फ बब्बू (66) तथा जितेन्द्र कुमार तिवारी उर्फ राजा बाबू (58) को गिरफ्तार किया गया है। इन दोनों को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

सिंह ने बताया कि पकड़े गए दोनों अभियुक्तों के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 396 (डकैती और हत्या) तथा 436 (किसी घर को ध्वस्त करने के लिए विस्फोटक पदार्थ का इस्तेमाल करना) के आरोप में मामला दर्ज किया गया है। जिले में दंगों के मामलों में 11 फरार अभियुक्तों को गिरफ्तार करने की कोशिश की जा रही है। राज्य सरकार ने कानपुर में सिख विरोधी दंगों के मामले में फिर से जांच के लिए तीन साल पहले उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर एसआईटी गठित की थी। एसआईटी ने कानपुर में हुए सिख विरोधी दंगों के मामलों में कुल 96 मुख्य संदिग्ध चिह्नित किए थे, जिनमें से 22 की मृत्यु हो चुकी है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static