UP: विधानसभा नेता प्रतिपक्ष ने राज्यपाल को लिखा पत्र, योगी सरकार को बर्खास्त करने की उठाई मांग

10/6/2020 5:09:26 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा (Uttar Pradesh Assembly) में विपक्ष (Opposition) के नेता (Leader) राम गोविंद चौधरी Ram Govind Chaudhary) ने मंगलवार को राज्यपाल (Governor) को पत्र लिखकर (Write Letter) लोकतंत्र (Democracy) और संवैधानिक अधिकारों (Constitutional rights) की रक्षा के लिए योगी सरकार (Yogi Government) को बर्खास्त (Dismissed) करने की संस्तुति केंद्र सरकार (Central Government) को भेजने तथा हाथरस कांड (Hathras Case) की जांच किसी सेवारत न्यायाधीश की देखरेख में कराने की मांग की है।

NCRB के तहत अपराधिक मामले में UP पहले स्थान पर: नेता प्रतिपक्ष 
समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के वरिष्ठ नेता चौधरी ने राज्यपाल (Governor)  आनंदीबेन पटेल (Anandiben Patel) को लिखे पत्र में आरोप लगाया कि भाजपा सरकार की गलत नीतियों के कारण उत्तर प्रदेश में महिलाओं व बच्चियों के अपहरण तथा बलात्कार जैसे अपराध निरन्तर बढ़ रहे हैं। राष्ट्रीय अपराध अभिलेख ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़े इसकी पुष्टि कर रहे हैं। हर 15 मिनट में बलात्कार की एक घटना हो रही है। उन्होंने एनसीआरबी की वर्ष 2019 के रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि देश भर में भारतीय दंड संहिता के तहत पंजीकृत अपराध में 10.09 फीसदी अपराध उत्तर प्रदेश में हुए हैं। प्रदेश में वर्ष 2018 में 5,85,157 और वर्ष 2019 में 6,28,578 आपराधिक वारदात दर्ज की गई। यह पूरे देश में दर्ज अपराधों का 12.2 फीसदी है। इस तरह उत्तर प्रदेश पहले स्थान पर आ गया है।

हाथरस कांड में पुलिस और प्रशासन का रवैया अत्यंत शर्मनाक
चौधरी ने हाथरस कांड की चर्चा करते हुए कहा कि इस मामले में पुलिस और प्रशासन का रवैया अत्यंत शर्मनाक रहा है। उन्होंने इस मामले की जांच किसी सेवारत न्यायाधीश की देखरेख में कराने की मांग की। उन्होंने कहा कि हाथरस के साथ ही सूबे के विभिन्न हिस्सों में हुई छेड़छाड़ व बलात्कार की घटनाओं से प्रदेश की बदनामी हुई है जबकि राज्य की भाजपा सरकार अपनी असफलताओं को बर्बरतापूर्ण तरीके से छिपा रही है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Umakant yadav

Recommended News

static