चंद्रशेखर ने BJP पर साधा निशाना कहा- दलित समाज को कीड़े मकोड़े समझती है योगी सरकार

punjabkesari.in Friday, Sep 24, 2021 - 06:33 PM (IST)

लखनऊ: आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद हाथरस कांड में प्रशासन को घेरने के बाद अलीगढ़ में भी कमिश्नर कार्यालय पर पहुंचे। उन्होंने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में बहन-बेटियों पर अत्याचार हो रहा रहा है। सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रहा है।  इस दौरान उन्होंने कहा कि हाथरस में दलित परिवार डर के साये  में जी रहा है।  परिवार को लगता है कि सुरक्षा हटेगी तो उनकी हत्या हो सकती है। दलित पीड़ित परिवार के गांव में सड़क भी नहीं बनी थी। जिसे रातोंरात प्रशासन ने बनवाई है।  वही गांव से कूड़ा हटाने को लेकर जिला  प्रशासन ने एक हफ्ते का समय मांगा है। उन्होंने कहा कि  हाथरस मामले में मुख्यमंत्री ने घोषणा की थी कि एक सरकारी आवास और नौकरी देंगे। लेकिन  सरकार ने अभी तक अभी तक वादा पूरा नहीं किया है।  चंद्रशेखर  ने कहा परिवार के लोगों को धमकियां भी मिल रही है। आजाद ने कहा कि हमने घर जाकर पता लगा कि सरकार ने अभी तक पीड़ित परिवार को कोई नौकरी नहीं दी है। सरकार ने जो घोषणा की थी। वह दलित परिवार के लिए मजाक बन कर रह गया है।
PunjabKesari
 पीड़ित परिवार की आवाज उठा रही है आजाद समाज पार्टी: चंद्रशेखर 
उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट के निर्देशन में केस की सुनवाई चल रही है अलीगढ़ मंडल के कमिश्नर और डीआईजी ने आश्वासन दिया है कि एक हफ्ते के अंदर हाथरस के पीड़ित परिवार को नौकरी और आवास दिलाने का काम करेंगे। चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि हम जनता से जुड़े लोग हैं और पीड़ित परिवार के लिए आवाज उठा रहे हैं।  प्रशासन के आश्वासन पर ही हम आगे बढ़ रहे हैं। प्रशासन का यह आश्वासन धोखा न हो इस पर अलीगढ़ कमिश्नर ने सात  दिन मांगे हैं।  लेकिन हम 10 दिन देते हैं। अगर हमारी मांगे पूरी नहीं होगी तो कमिश्नर कार्यालय पर ही धरना देने को मजबूर होना पड़ेगा।
PunjabKesari
 आंख में आंख मिलाकर झूठ बोलती है सरकार  
 उन्होंने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार दलित समाज को कीड़े मकोड़े समझती है। अगर इंसान समझती तो जो वादे किए थे वह पूरा करती। उन्होंने कहा कि मुझे दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि उत्तर प्रदेश को एक ऐसा मुख्यमंत्री मिला है।  जो आंख में आंख मिलाकर झूठ बोलता है। योगी सरकार मैनेजमेंट और झूठ पर ही टिकी हुई है। उन्होंने झूठ बोलकर दलित समाज का मजाक उड़ाया है।  और दलित समाज 2022 के विधानसभा चुनाव में इसका जवाब देंगा. 2022 चुनाव में दलित समाज यह तय करेगा कि मुख्यमंत्री को कहां रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि एससी -सटी एक्ट में जो मुआवजा पीड़ित को मिलता है। वह नहीं दिया गया।  जिला प्रशासन कह रहा हैं कि बजट नहीं है। उन्होंने कहा कि दलित समाज के पीड़ित परिवार को अगले 4 दिन में मुआवजा देने की बात कही है. अगर यह बात नहीं मानी गई. तो आजाद समाज पार्टी और भीम आर्मी के लोग सड़क पर उतर कर आंदोलन करेंगे।

 यूपी में भाजपा को कैसे रोकना है इस पर काम कर रही है आजाद समाज पार्टी 
उन्होंने बताया कि 2022 में चुनावी गठबंधन पर अभी कोई रणनीति नहीं बनी है लेकिन भीम आर्मी का एक-एक वर्कर 2022 में भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से बेदखल करने और बहुजन समाज को ताकतवर बनाएगी।  उन्होंने ओवैसी से मुलाकात को लेकर कहा कि यूपी में भाजपा को कैसे रोकना है।  इस पर चर्चा हुई है  इस तरह की चर्चा अन्य पार्टियों से भी हो रही है। अगर किसी से हमारा एलायंस होगा तो जल्द ही मीडिया को बताया जाएगा। उन्होंने कहा कि मेरा काम अभी यह है कि किसी भी समाज का कोई व्यक्ति दुखी या पीड़ित है. तो उसको न्याय दिलाने का काम कर रहे हैं।  उन्होंने कहा कि जहां-जहां पीड़ितों को न्याय नहीं मिलेगा वहां महापंचायत का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जतना पार्टी को हराने के लिए आजाद समाज पार्टी कार्य कर रही है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static