धामी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरे, मुख्यमंत्री ने ‘अच्छा कार्य'' करने का किया दावा

punjabkesari.in Friday, Jul 01, 2022 - 01:25 PM (IST)

 

देहरादूनः उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के दूसरे कार्यकाल का 100 दिन पूरा हो गया और इस मौके पर उन्होंने दावा किया कि उनकी सरकार ने इस दौरान 'अच्छा कार्य' किया है। साथ ही उन्होंने 2025 तक उत्तराखंड को देश का सर्वश्रेष्ठ राज्य बनाने की प्रतिबद्धता जताई। हालांकि मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने सरकार के 100 दिनों के कार्यकाल को पूरी तरह विफल करार देते हुए कहा कि ‘‘मात्र घोषणाएं करने से उपलब्धियां हासिल नहीं होतीं।''
PunjabKesari
मुख्यमंत्री धामी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मैं अपने प्रदेश की सवा करोड़ जनता को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि हम 2025 तक उत्तराखंड को देश का श्रेष्ठ राज्य बनाने हेतु प्रतिबद्ध हैं और पूर्ण समर्पण भाव के साथ इस दिशा में निरंतर कार्य कर रहे हैं।' उन्होंने कहा, ‘‘हमारी सरकार के 100 दिन विकास, समर्पण और प्रयास के रहे हैं। जनता ने हम पर जो विश्वास दिखाया, उस पर हमारी सरकार खरा उतरेगी। हमने 100 दिन में अच्छा कार्य किया है और आगे भी अच्छा कार्य करने के साथ नया कीर्तिमान बनाएंगे।'' उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपेक्षानुसार 2025 तक उत्तराखंड को देश का नंबर एक राज्य बनाने के लिए सभी के सहयोग से काम किया जा रहा है और समृद्ध तथा आत्मनिर्भर उत्तराखंड का निर्माण किया जाएगा।
PunjabKesari
मुख्यमंत्री ने कहा कि वह अपने हर वादे को पूरा करने में जुटे हैं। लगातार दूसरी बार प्रदेश का मुख्यमंत्री बनकर इतिहास रचने वाले धामी ने 23 मार्च को दूसरी बार पद की शपथ ली थी। साल की शुरुआत में हुए विधानसभा चुनावों में उनकी पार्टी भाजपा को लगातार दूसरी बार जीत मिली थी लेकिन धामी खुद अपनी सीट खटीमा से हार गए थे। बाद में चंपावत सीट पर 31 मई को हुए उपचुनाव में उन्होंने 55 हजार से ज्यादा मतों से जीत हासिल की।
PunjabKesari
वहीं कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करण माहरा ने धामी सरकार के 100 दिनों के कार्यकाल को पूरी तरह विफल करार दिया और कहा, ‘‘मात्र घोषणाएं करने से उपलब्धियां हासिल नहीं होतीं।'' उन्होंने कहा, ‘‘धामी सरकार चारधाम यात्रा से लेकर विकास के मुद्दे तक हर मामले में विफल रही है। सरकार का बजट 2000 करोड़ रुपए के घाटे में है और प्रति व्यक्ति कर्ज के मामले में प्रदेश देश में तीसरे स्थान पर है। 2017 में उत्तराखंड में प्रति व्यक्ति कर्ज 35,000 रुपए था, जो 2022 तक भाजपा सरकार ने एक लाख चार हजार करोड़ रुपए तक पहुंचा दिया।''


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static