उत्तराखंड में लॉकडाउन के उल्लंघन के आरोप में 335 गिरफ्तार, कई दर्जन वाहन जब्त

3/26/2020 4:22:06 PM

 

नैनीतालः लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ उत्तराखंड में पुलिस का रवैया गुरुवार को भी सख्त रहा। पुलिस ने राज्य में कुल 335 लोगों को गिरफ्तार किया है। ऐसे लोगों के खिलाफ कुल 51 मामले दायर किए गए हैं। इसके अतिरिक्त कई दर्जन वाहन जब्त किए गए हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की घोषणा के बाद बुधवार रात से देश में पूरी तरह से लॉकडाउन लागू किया गया है। उत्तराखंड को राज्य सरकार ने 3 दिन पहले ही लॉकडाउन घोषित कर दिया था। लोगों को कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से बचाने के लिए सरकार व शासन ने पूरे राज्य में 6000 पुलिसकर्मी व पीएसी की 20 कंपनियां तैनात की हैं। सरकार ने लोगों को घरों तक सीमित रखने के लिए तमाम तरह के दिशा-निर्देश जारी किए हैं। सभी प्रकार के परिवहन के संचालन पर प्रतिबंध लगाया गया है। इसके बावजूद कुछ लोग नियमों को ताक पर रखकर सड़कों पर उतरने से बाज नहीं आ रहे हैं।

पुलिस मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार नियमों और प्रावधानों के उल्लंघन करने के आरोप में पुलिस ने पूरे प्रदेश में गुरुवार को 335 लोगों को गिरफ्तार किया है। कुल 51 मामले पंजीकृत किए गए हैं। इनके खिलाफ आवश्यक कार्यवाही अमल में लाई जा रही है। बुधवार को पुलिस ने 55 मामले दायर थे और 160 लोगों को गिरफ्तार किया था। कई दर्जन वाहनों को सीज दिया गया थ। कई लोगों का चालान किया गया था। लॉकडाउन का उल्लंघन करने के मामले में गढ़वाल मंडल के अलावा कुमाऊं मंडल में कई मामले दर्ज किए गए थे। बागेश्वर में 3 दुकानदारों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं जबकि 10 वाहन सीज किये गये हैं और 12 लोगों के चालान किए गए हैं।

चंपावत में भी 33 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई जबकि 11 वाहन सीज किए गए हैं। इसी प्रकार नैनीताल जनपद में धारा-144 का उल्लंघन करने के आरोप में 15 लोगों के खिलाफ अभियोग पंजीकृत किए गए हैं और 75 लोगों को पाबंद किया गया है। साथ ही 80 वाहनों को सीज किया गया जबकि मोटर व्हीकल एक्ट के तहत 425 वाहनों के चालान किए गए हैं। इनके अलावा ऊधमसिंह नगर जिले में भी 4 दुकानदारों को गिरफ्तार किया गया था। कई जगह पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी थीं।


Nitika

Related News