मुकदमा दर्ज होने के विरोध में हरीश रावत ने राजभवन के सामने दिया 'सांकेतिक धरना'

6/30/2020 4:52:54 PM

 

देहरादूनः उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत सहित 25 समर्थकों के खिलाफ बिना अनुमति के पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर विरोध जताने पर मामले दर्ज हो गया है। वहीं मुकदमा दर्ज होने के बाद आज हरीश रावत ने राजभवन के सामने 1 घंटे का सांकेतिक धरना दिया।
PunjabKesari
हरीश रावत जैसे ही गवर्नर हाउस के सामने धरने पर बैठने जा रहे थे, वैसे ही पुलिस के द्वारा उन्हें रोक दिया गया। इसी बीच हरीश रावत राजभवन से 50 मीटर दूरी पर बैरिकेडिंग के सामने ही धरने पर बैठ गए। इसके बाद अन्य कांग्रेसी भी हरीश रावत के साथ धरने में शामिल हो गए। वहीं पूर्व सीएम ने कहा कि उत्तराखंड सरकार लोकतंत्र की आवाज को दबाने का काम कर रही है लेकिन कांग्रेसी कार्यकर्ता किसी भी हाल में डरने वाले नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि वह लगातार लोकतंत्र की आवाज को बुलंद करने का काम करते रहेंगे।

बता दें कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी को लेकर पूरे देश भर में कांग्रेस इस समय आंदोलन चला रही है। उत्तराखंड में भी सोमवार को हरीश रावत के द्वारा बैलगाड़ी पर बैठकर प्रदर्शन किया गया था। इसे लेकर पुलिस ने हरीश रावत के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया।


Nitika

Related News