उत्तराखंड में पैसे लेकर किशोरी की शादी के मामले की पुलिस को सौंपी गई जांच

4/8/2021 12:05:07 PM

 

गोपेश्वरः उत्तराखंड के चमोली जिले में कथित तौर पर पैसा लेकर एक किशोरी की अपने से दोगुने उम्र के व्यक्ति से जबरन शादी करने के मामले की जांच पुलिस को सौंप दी गई।

शादी के 3 महीने बाद सोशल मीडिया के जरिए सामने आए इस मामले में 14 वर्षीय किशोरी के पिता और ससुराल पक्ष के लोगों के खिलाफ मंगलवार देर शाम राजस्व अधिकारियों ने जबरन शादी और मारपीट करने के लिए बाल विवाह अधिनियम के साथ किशोर न्याय अधिनियम, यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पोक्सो) अधिनियम और भारतीय दंड सहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था।

वहीं पोखरी क्षेत्र के उपजिलाधिकारी वैभव कुमार गुप्ता ने बताया कि प्राथमिक जांच के बाद बुधवार को इस मामले की जांच को नियमित पुलिस को सौंप दिया गया है। उन्होंने कहा कि मामले की संवेदनशीलता और उच्च न्यायालय द्वारा इस तरह के मामलों में पूर्व में दिए गए निर्णयों के आधार पर इस मामले को चमोली की नियमित पुलिस को सौंपा गया है जो इसकी जांच कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी। पुलिस ने बताया कि जिले के सुदूरवर्ती गांव में हुई यह घटना सोमवार को कक्षा आठवीं में पढ़ने वाली पीड़ित किशोरी के स्कूल पहुंचने पर सामने आई जब उसने अपनी आपबीती साझा की।

बता दें कि किशोरी के विद्यालय में पढ़ाने वाले एक शिक्षक उपेंद्र सती ने वीडियो के जरिए सभी को इस घटना के बारे में बताया और उन्होंने ही इस मामले में प्राथमिकी भी दर्ज करवाई। पीड़िता के हवाले से शिक्षक सती ने बताया कि कोविड-19 के कारण स्कूलों में तालाबंदी के दौरान गत जनवरी में उसके पिता ने कथित तौर पर पैसा लेकर उसकी शादी जबरदस्ती देहरादून के एक व्यक्ति से कर दी।


Content Writer

Nitika

Related News