उत्तरप्रदेश व उत्तराखंड के बीच कोई भी विवाद नहीं: योगी आदित्यनाथ

punjabkesari.in Saturday, May 28, 2022 - 05:14 PM (IST)

नैनीतालः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उप्र व उत्तराखंड के बीच कोई मतभेद नहीं है। दोनों प्रदेश अब समस्या पैदा करने पर नहीं समाधान पर विचार करते हैं। समाधान भी जनभावना व राष्ट्र भावना के अनुकूल। दोनों राज्यों के बीच जो भी मुद्दे अनसुलझे हैं, उनका शीघ्र समाधान किया जायेगा।

चंपावत के टनकपुर दौरे पर आये योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को यह बात कही। उन्होंने कहा कि विवाद पैदा करना कांग्रेस पार्टी का काम है जबकि भारतीय जनता पार्टी समाधान पर विश्वास करती है। समाधान भी जन भावना व राष्ट्र भावना के अनुकूल करती है। उन्होंने साफ साफ कहा कि दोनों प्रदेशों के बीच कोई मतभेद नहीं हैं। उन्होंने जनता को याद दिलाया कि उनका जन्म भी उत्तराखंड में हुआ है और प्रारंभिक शिक्षा भी यहीं ग्रहण की है जबकि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लखनऊ से शिक्षा प्राप्त की है। कई वर्षों के बाद वह अपनी मातृभूमि लौटे हैं। उन्हें इस दौरान काफी सुखद अनुभूति हुई। उन्होंने कहा कि इसी महीने की शुरूआत में हरिद्वार में दोनों राज्यों ने ने अलकनंदा होटल मुद्दे का समाधान निकाला।

उप्र के कब्जे में मौजूद अलकनंदा होटल को उत्तराखंड के सुपुर्द कर दिया गया जबकि उत्तराखंड सरकार की ओर से उपलब्ध करायी गयी भूमि पर उप्र सरकार की ओर से अलग से पर्यटन अतिथि गृह का निर्माण किया गया है। उन्होंने कहा कि दोनों प्रदेशों के बीच जो भी अनसुलझे मुद्दे होंगे, उसका समाधान किया जायेगा। उन्होंने चंपावत की जनता को आश्वस्त किया कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को बड़े अंतर से जितायें और इसके बाद बनबसा की समस्या का समाधान करने वह खुद बनबसा आयेंगे। वह खुद बनबसा में शारदा तटों का समाधान करेंगे। उन्होंने कहा कि वह बाबा गोरखनाथ के अनुयायी हैं और वह चंपावत में गुरू गोरखनाथ के दर्शन के साथ ही मां पूर्णागिरी धाम भी जायेंगे। यही नहीं चंपावत की पुण्य धरती पर लोगों से मिलने का अवसर भी उन्हें मिलेगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Diksha kanojia

Related News

Recommended News

static