देहरादूनः IMA में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे कैडेट्स के परेड की जनरल रावत ने की समीक्षा

12/4/2019 6:41:08 PM

देहरादूनः उत्तराखंड के देहरादून स्थित भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे 306 भारतीय और 71 विदेशी जेंटलमैन कैडेट्स ऑफिसर (जेसीओ) के परेड की मंगलवार को उप सेनानायक (डीसी) और मुख्य प्रशिक्षक (सीआई) मेजर जनरल जीएस रावत ने समीक्षा की।

आईएमए परिसर स्थित ऐतिहासिक चेटवुड ड्रिल पर आयोजित परेड में शामिल जेसीओ को मेजर जनरल रावत ने ड्रिल स्क्वायर पर उनके उत्कृष्ट मानकों के लिए बधाई दी। जनरल रावत ने उनकी कड़ी मेहनत और अंत में चुनौतियों एवं जिम्मेदारियों से भरी दुनिया तक पहुंचने के लिए उनकी सराहना की। पासिंग आउट कोर्स के संबोधन के दौरान उन्होंने कहा कि जेंटलमैन कैडेट्स को ‘उदाहरण के लिए लीडर' सिखाया गया है और जो सैनिक उनकी कमान में होंगे उन्हें गर्व के साथ देखना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना दुनिया में सबसे अच्छी है, सरल दिल से, निर्विवाद निष्ठा और देशभक्ति से भरे दिलों के साथ। लेकिन तब, एक अधिकारी के रूप में आपको अपने इरादे और कार्रवाई की सत्यता और पवित्रता के आधार पर अपनी कार्रवाई, आचरण से सम्मान और विश्वास अर्जित करना होगा।

वहीं जनरल रावत ने कहा कि एक बार जब आपने उनका विश्वास और निष्ठा अर्जित कर ली, तो वे हर लड़ाई में आपका अनुसरण करेंगे और आपके लिए इसे जीतेंगे। हमेशा याद रखें कि एक नेता का सबसे महत्वपूर्ण पहलू प्रदर्शन और जिम्मेदारी है। हमेशा अपनी टीम और उनके कार्यों की जिम्मेदारी लें। और यह भी याद रखें कि इससे पहले कि आपके नेता एक सफल हों, यह सब आपके आत्म को संवारने के बारे में है। एक बार जब आप एक नेता बन गए तो दूसरों को संवारने में सफलता मिलेगी। उन्होंने प्रशिक्षण के सफल समापन पर अनुकूल विदेशी देश के जेंटलमैन कैडेट्स की भी सराहना की।

बता दें कि यह आयोजन सफल रहा और बड़ी संख्या में स्कूली बच्चों, स्थानीय नागरिकों और सेना के जवानों ने अपने परिवारों और दोस्तों के साथ इसे देखा। परेड में जेसीओज ने उत्साह, जोश और जज्बा दिखाते हुए प्रशिक्षण (ट्रेनिंग) के दौरान सीखे ड्रिल आंदोलन प्रदर्शित किए।
 


Nitika

Related News