रेखा आर्या ने खेल महाकुंभ-2022 का किया शुभारंभ, कहा- खिलाड़ियों व खेल के प्रति सरकार गंभीर

punjabkesari.in Monday, Nov 28, 2022 - 10:06 AM (IST)

 

देहरादूनः उत्तराखंड की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री रेखा आर्या ने देहरादून स्थित पवेलियन ग्राउंड में जिला स्तरीय खेल महाकुंभ-2022 का विधिवत शुभारंभ किया। खिलाड़ियों ने विभिन्न खेलों में शानदार प्रदर्शन किया।

PunjabKesari

इस अवसर पर आर्या ने कहा कि हमारी सरकार ने शिक्षा के साथ खेलों में भी विद्यार्थियों को जोड़ने का प्रयत्न किया है। स्कूल का होम वर्क, आधुनिक जीवन शैली और स्मार्ट फोन पर बीत रहे बचपन में खेल कहीं गुम सा हो गया था, लेकिन खेल महाकुंभ कार्यक्रम की शुरुआत इसे फिर से पटरी पर लाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि आज के दौर में खिलाड़ियों के लिए खेल का दायरा महज मनोरंजन और फिटनेस तक सीमित नहीं रहा बल्कि अब इसमें खिलाड़ियों को सुनहरे करियर नजर आ रहे हैं, जिसके लिए हम प्रयत्नशील हैं। खिलाड़ियों के लिए सरकार सरकारी नौकरियों में 4 प्रतिशत छेतीज आरक्षण पर कार्य कर रही है, जिससे हमारे खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी का लाभ मिल सके।
PunjabKesari

आर्या ने कहा कि खेल महाकुंभ की शुरुआत न्याय पंचायत स्तर से शुरू की गई थी, जो अब ब्लॉक स्तर से होते हुए जिला स्तर पर आयोजित हो रही है, जिसमें विभिन्न खेलों के प्रतिभागी अपनी प्रतिभा दिखा रहे हैं। उन्होंने इस बात पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि इस छोटे से राज्य में करीब 3 लाख प्रतिभागी खिलाड़ी खेलों में हिस्सा ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि खेल हमें तनावमुक्त रखने के साथ ही टीम भावना सिखाता है। खेलने से जहां तन मन स्वस्थ होता है तो वहीं तनाव भी दूर होता है। साथ ही आर्या ने खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन बढ़ाया और कहा कि जिस तरह उत्तराखंड को देवभूमि के नाम से जाना जाता है हमारा प्रयास है कि भविष्य में इसे हम खेलों की भूमि के नाम से जाने।

PunjabKesari

वहीं खेल मंत्री ने कहा कि खिलाड़ियों को विश्वस्तर की सुविधाएं मिले, इसको लेकर विभाग लगातार प्रयासरत है। हमारी सरकार ने 8 से 14 वर्ष के खिलाड़ियों के लिए मुख्यमंत्री खिलाड़ी उदीयमान उन्नीयन योजना शुरू की है, जिसका लाभ खिलाड़ियों को अपनी खेल की बुनियादी जरूरतें पूरा करने में मिल रहा है। उन्होंने खिलाड़ियों को खेलों में खेल भावना से भाग लेने का आह्वान करते हुए कहा कि पहले जहां खेल महज एक मनोरंजन का साधन होता था, वहीं आज खेलों के क्षेत्र में भी कैरियर की अपार संभावनाएं बनी रहती हैं। कामयाब खिलाड़ी देश का नाम रोशन करने के अलावा नौकरी के क्षेत्र में सक्रिय होकर अपने विभाग का नाम भी रौशन करता है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static