धामी के दौरे से मचे बवाल के बाद नानकमत्ता गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष सहित 4 का इस्तीफा

7/30/2021 9:35:46 AM

 

रूद्रपुरः ऊधमसिंह नगर जिले के ऐतिहासिक गुरुद्वारा नानकमत्ता साहिब के परिसर में हाल में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के स्वागत समारोह के दौरान स्कूली छात्राओं के नृत्य का वीडियो वायरल होने से मचे हंगामे के बाद गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के 4 सदस्यों ने इस्तीफा दे दिया।

पिछले 2 दिनों से इस मामले पर गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के इस्तीफे की मांग को लेकर उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से हजारों की संख्या में सिख संगत ने नानकमत्ता गुरुद्वारा में डेरा डाला हुआ था। मामले के तूल पकड़ने के बाद अकाल तख्त अमृतसर द्वारा भेजी गई 3 सदस्यीय समिति के निर्देश पर गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष सेवा सिंह सहित चार सदस्यों ने बुधवार को पद से इस्तीफा दे दिया। फिलहाल गुरुद्वारा का प्रबंधन देखने के लिए नानकमत्ता गुरुद्वारा के 19 निदेशकों में से पांच निदेशकों की एक समिति का गठन किया गया है।

मुख्यमंत्री धामी अपने हाल के ऊधमसिंह नगर जिले के दौरे में 24 जुलाई को नानकमत्ता गुरुद्वारे में दर्शन के लिये गए थे। मुख्यमंत्री के स्वागत समारोह में स्कूली छात्राओं ने गुरुद्वारे के बाहर के परिसर में नृत्य किया था तथा मुख्यमंत्री, मंत्रियों और अन्य विधायकों के साथ नानकमत्ता गुरुद्वारे में माथा टेकने के दौरान गुरबाणी को थोड़ी देर के लिए बंद कर दिया गया था। कुछ सिख संगठनों ने इस पर आपत्ति प्रकट करते हुए इसे गुरुद्वारे की मर्यादा का उल्लंघन बताया और इसी के बाद मामले पर विवाद हो गया।

अकाल तख्त अमृतसर ने पूरे मामले की जांच के लिए 3 सदस्यीय समिति का गठन कर उसे नानकमत्ता गुरुद्वारा भेजा। कमेटी के निर्देश पर नानकमत्ता गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष सेवा सिंह सहित 4 सदस्यों ने अपना इस्तीफा दे दिया। अब वे 15 दिन के अंदर अपना पक्ष अकाल तख्त अमृतसर में जाकर रखेंगे, जिसके बाद अकाल तख्त यह निर्णय लेगा कि कमेटी को स्थायी रूप से बर्खास्त किया जााए या उसे दोबारा बहाल किया जा सकता है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Recommended News

static