देहरादून में मनाया गया 100वां अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस, गोष्ठी कार्यक्रम का हुआ आयोजन

punjabkesari.in Sunday, Jul 03, 2022 - 12:17 PM (IST)

 

देहरादून(कुलदीप रावत): उत्तराखंड सहकारिता भवन मियांवाला देहरादून में 100वां अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस मनाया गया। इस अवसर पर एक गोष्ठी का आयोजन भी हुआ। गोष्ठी कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में सहकारिता मंत्री डॉक्टर धन सिंह रावत मौसम विभाग के हाई अलर्ट के अनुसार अत्यधिक खराब मौसम के कारण शिरकत नहीं कर पाए सहकारिता मंत्री के द्वारा निबंधक सहकारिता को अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस के अवसर पर शुभकामनाएं देते हुए अपना संदेश पहुंचाया।

सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावत का संदेश
आज पूरा विश्व अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस मना रहा है आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में एवं माननीय केंद्रीय सहकारिता मंत्री अमित शाह जी के मार्गदर्शन में देश में सहकारिता सहकार से समृद्धि का संकल्प पूरा कर रहा है आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने देश की समृद्धि और आर्थिक उत्थान में योगदान देने के लिए सहकारिता को योगदान की जिम्मेदारी सौंपी है। इस मौके पर निबन्धक आलोक कुमार पांडेय ने कहा कि आज़ादी में सहकारिता का बड़ा योगदान रहा। 1904 में सहकारिता का एक्ट बना है। सहकारिता सबको मिल जुलकर चलना उद्देश्य है। उन्होंने कहा प्राथमिक कृषि ऋण सहकारी समितियों को बहुउद्देशीय सेवा केन्द्र में विकसित करना है। यह काम राज्य में बड़ी तेजी से हुआ है। 
PunjabKesari
पांडेय ने कहा कि मिलेट मिशन योजनान्तर्गत प्रदेश में परम्परागत कृषि के उत्थान हेतु पर्वतीय क्षेत्रों में उत्पादित मण्डुवा, झंगोरा, राजमा, चौलाई का सहकारी समितियों के माध्यम से समर्थन मूल्य पर क्रय कर किसानों की उपज का उचित मूल्य प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सहकारिता से जुड़कर विभाग के माध्यम से प्रदेश में संचालित जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाएं तथा एक सशक्त, समृद्ध एवं आत्मनिर्भर उत्तराखंड राज्य के निर्माण में अपना योगदान दें। 

उत्तराखंड सहकारी संघ के चेयरमैन मातबर सिंह रावत ने कहा कि आज गौरव का दिन है, जो हम लोगों को 100 वर्ष मनाने का सौभाग्य मिला है। उन्होंने कहा 5 वर्ष में एम पैक्स सक्रिय हुए हैं। अपर निबन्धक आनंद शुक्ल ने कहा कि सहकारिता की परियोजना से 5 साल में गांव-गांव में हर फील्ड में कार्य पूरे होंगे। डेरी से विपणन प्रबंध पौध कृषि पशुपालन मत्स्य पालन सहित अनेक बुनियादी कार्य किए जा रहे हैं।  अपर निबन्धक ईरा उप्रेती ने कहा कि सहकारिता ने बहुत अच्छे काम किए हैं, जो काम किए हैं। उसका ब्रांड नाम देना चाहिए ताकि सहकारिता की और प्रमाणिकता बढ़े। 

टिहरी जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन सुभाष रमोला ने कहा कि सहकारिता में प्रदेश में गत 5 वर्ष में सरकार ने बहुत काम किए हैं। उन्होंने रजिस्ट्रार सहित सभी अफसरों से कहा कि सहकारिता के जिले व ब्लॉक स्तर के अफसरों को और अधिक सक्रिय करने की जरूरत है। संयुक्त निबन्धक एमपी त्रिपाठी ने कहा कि सहकारिता समुदाय विषय का काम है। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र ने कहा था कि दुनिया बर्बादी की तरफ जा रहा हैं। एक मात्र समाधान सहकारिता है। 1923 से अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस की नींव रखी गई। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static