कांग्रेस उम्मीदवार के नामांकन से वरिष्ठ नेताओं की गैरहाजिरी पराजय की स्वीकारोक्ति: डॉ. भसीन

punjabkesari.in Thursday, May 12, 2022 - 04:14 PM (IST)

 

देहरादूनः उत्तराखंड भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. देवेंद्र भसीन ने चंपावत विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के नामांकन के समय वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं की अनुपस्थिति के मुद्दे पर कहा कि इससे फिर साफ हो गया है कि कांग्रेस ने अभी से हार मान ली है और कांग्रेस के बड़े नेता हार की जिम्मेदारी अपने ऊपर लेने से भाग रहे हैं।

डॉ. भसीन ने कहा कि पहले दिन से ही स्पष्ट है कि चंपावत उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ऐतिहासिक मतों से विजयी होंगे। शुरू में बड़े-बड़े दावे करने वाले कांग्रेस नेताओं द्वारा भी कांग्रेस की निश्चित पराजय को मान लेना उस समय सिद्ध हो गया, जब बड़े नेताओं ने चुनाव में प्रत्याशी बनने से हाथ खड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं करीब 2 महीने पूर्व हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार रहे नेता ने भी चुनाव लड़ने से मना कर दिया।

भाजपा नेता ने कहा कि अब चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी द्वारा किए गए नामांकन के समय कांग्रेस के प्रदेश के सबसे बड़े नेता गायब रहे। यह कांग्रेस की चुनाव में निश्चित पराजय को देखते हुए कांग्रेस नेताओं की हताशा का प्रमाण है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं को साफ तौर पर पता है कि इस चुनाव में मुख्य मंत्री पुष्कर सिंह धामी भारी मतों से जीत रहे हैं। ये नेता चुनाव में कांग्रेस की होने वाली करारी हार की जिम्मेदारी से अभी से बच रहे हैं।

डॉ. भसीन ने कहा कि यह कांग्रेस में निराशा के साथ पार्टी में चल रहे अंदरूनी संघर्ष का भी प्रमाण है। भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस का बिखराव चंपावत विधानसभा उपचुनाव में साफ दिखाई नहीं दे रहा है, जहां कांग्रेस धरातल पर है नहीं, जबकि जबकि भाजपा संगठन पूरी एक जुटता से चुनाव में जुटा हुआ है। उन्होंने कहा कि चंपावत की प्रबुद्ध जनता का आशीर्वाद मुख्यमंत्री धामी के साथ है और वे ऐतिहासिक व रिकॉर्ड हो मतों से विजयी होंगे। जनता धामी में चम्पावत व उत्तराखंड का विकास व सुखद भविष्य देख रही है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Nitika

Related News

Recommended News

static