पति ने शराब के नशे में बोला तीन तलाक, फिर बंधक बनाकर किया घिनौना काम

Friday, April 21, 2017 4:54 PM
पति ने शराब के नशे में बोला तीन तलाक, फिर बंधक बनाकर किया घिनौना काम

संभल(मुजम्मिल दानिश): उत्तर प्रदेश के संभल में तीन तलाक का एक और मामला सामने आया है। यास्मीन नाम की महिला ने अपने पति पर शराब के नशे में तीन तलाक देने और फिर डेढ़ माह तक बंधक बनाकर टॉर्चर करने का आरोप लगाया है। पीड़ित महिला का कहना है कि पति ने तलाक दिया और उसे घर में बंधक बनाकर यातनाएं भी दीं। पीड़ित महिला का कहना है कि तीन तलाक पर पाबंदी लगनी चाहिए इससे महिला की जिंदगी बर्बाद होती है।

शहर के मौहल्ला देहली दरवाजा निवासी रशीद ने अपनी बेटी यासमीन का निकाह डेढ साल पहले मौहल्ला टंकी निवासी आलम के साथ किया था। शादी के एक साल बाद यासमीन ने बेटे को जन्म दिया। यासमीन ने पति के साथ सुखी शादीशुदा जिंदगी का सपना देखा था मगर पति ने उसका सपना चकनाचूर का दिया। छह माह के मासूम को गोद में लेकर पीड़ित महिला ने कोतवाली पहुंचकर अपना दर्द बयान किया। 

यासमीन का कहना है कि डेढ़ माह पहले पति आलम शाम को शराब के नशे में घर पहुंचा और उसके साथ मारपीट शुरु कर दी। इसके बाद पति ने उसे तीन बार तलाक कहकर रिश्ता खत्म करने का ऐलान कर दिया। यासमीन ने बताया कि वह मायके जाने को तैयार हुई तो पति व अन्य ससुराल वालों ने मायके नहीं जाने दिया और घर में बंदकर प्रताडि़त करते रहे। उस पर दबाव बनाया जा रहा था कि वह तलाक की बात किसी से न कहे और चुपचाप जाकर अपने माता पिता के घर रहे। यासमीन बार बार पति के सामने गिडिग़ड़ाती रही मगर पति को उस पर दया नहीं आई। डेढ़ माह तक उसे ससुराल में यातनाऐं दी जाती रहीं। 

यासमीन का कहना है कि आखिर में उसने पति से कहा कि वह किसी से कुछ नहीं कहेगी उसे उसके पिता के घर जाने दिया जाये। किसी तरह वह ससुराल से मायके पहुंची तो मायके वालों को तलाक और जुल्म की बात बताई। यासमीन ने अपने भाईयों को आपबतीती बताई तो उन्होंने समाज के जिम्मेदार लोगों से सारी बात बताई और यासमीन को इंसाफ दिलाने की गुहार लगाई। इसके बाद ससुराल पक्ष के लोगों से बातचीत का सिलसिला शुरु हुआ और चार दिन तक पंचायतें चलती रहीं। ससुराल वाले यासमीन को रखने के लिए किसी भी हालत में तैयार नहीं थे। उसे खर्चा और कुछ एकमुश्त रकम देने की बात चली मगर बाद में वह इस बात से भी मुकर गये। 

पीड़िता ने सरकार से लगाई मदद की गुहार 
पीड़ित ने इस मामले में सरकार से न्याय की गुहार लगाई है अब देखने वाली बात ये हैं कि ठाणे के चक्कर लगा रही इस पिस्ट को कब न्याय मिलता है। 
 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !