गौशाला में 55 गायों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत: मचा हड़कंप, योगी बोले- दोषी बख्शे नहीं जाएंगे

punjabkesari.in Friday, Aug 05, 2022 - 12:47 PM (IST)

अमरोहा: उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले के साथलपुर गांव में स्थित गौशाला में 55 गायों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई जबकि कई गायें गंभीर रूप से बीमार हो गई है। घटना की जानकारी होते ही जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन- फानन में जिलाधिकारी मामले में सख्त कार्रवाई करते हुए ग्राम पंचायत अधिकारी को निलंबित कर दिया। उन्होंने बताया कि ताहिर नाम के युवक के यहां से चारा खरीद कर आता है। उसके खिलाफ भी मामला दर्ज कर किया गया है। आशंका जताई जा रही है कि चारे में जहर मिलाने से गायों की मौत हुई है।

योगी बोले- दोषी बख्शे नहीं जाएंगे
वहीं घटना के बाद सीएम योगी ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए है। उन्होंने पशुधन मंत्री व अपर मुख्य सचिव को मौके पर भेज कर बीमार गाय को इलाज के निर्देश दिए है । सीएम के निर्देश के बाद पशुधन मंत्री व अपर मुख्य सचिव हसनपुर विधायक महेंद्र खड़क वंशी, डीएम वीके त्रिपाठी, डीआईजी मुरादाबाद , एसपी अमरोहा , सहित पुलिस प्रशासन के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच कर मौके पर हालात का जायजा लिया। सीएम ने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि दोषी कोई भी हो उस पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी। 

आखिर 55 गायों की मौत जिम्मेदार कौन?
डीएम बीके त्रिपाठी ने 55 गायों की मौत की पुष्टि की है जबकि हसनपुर के क्षेत्रीय विधायक महेंद्र खड़ग  वंशी ने 50 गायों की मौत की पुष्टि की थी। वहीं  ग्रामीणों का कहना है कि बड़ी संख्या में गायों की मौत हुई।  ऐसे हालात में यह कहना मुश्किल है कि कितनी गायों की मौत हुई, लेकिन जिस तरह से प्रशासन ने गौशाला में मीडिया की एंट्री बैन की है इससे यह कहना बेमानी नहीं होगा कि गौशाला में बड़ी संख्या में गायों की मौत हुई है।  आखिर प्रशासन इस सच्चाई को दबाना चाहता है इसीलिए मीडिया के एंट्री गौशाला में फिलहाल बंद कर दी है। आखिर इन 55 बेजुबानों की मौत का दोषी कौन है।

अब तक सात लोगों को हिरासत में ले चुकी है पुलिस
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गायों की मौत के मामले मुकदमा दर्ज हुआ है। सात लोगो को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।  तीन लोगों के नाम सामने आ रहे है उनकी तलाश की जा रही है  जो भी कोई दोषी होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बीमार गायों का इलाज चल रहा है। मृत गायों के शवों को पोस्टमार्टम कराया जाएगा। उसके बाद ही सच्चाई सामने आएगी कि आखिर मौत की असली वजह क्या रही है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static