महिला बैंक मैनेजर के ऊपर एसिड फेकने का मामला, लोन न अप्रूव करने पर किया था अटैक....7 गिरफ्तार

punjabkesari.in Friday, Aug 19, 2022 - 09:36 AM (IST)

कौशांबी: यूपी के कौशांबी जिले में 8 अगस्त को बैंक मैनेजर दीक्षा सोनकर पर हुए एसिड अटैक मामले में पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। घटना में शामिल सभी नौ आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं। बैंक मैनेजर पर बैंक कर्मी के ही सैयदसरांवा के पूर्व प्रधान के साथ साजिश रचकर तेजाब से हमला कराया था। लोन न पास करने पर ही घटना अंजाम दी गई है। पुलिस ने सभी आरोपियों को जेल भेज दिया है। पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने प्रेसवार्ता करके खुलासा किया।  

एसपी हेमराज मीणा ने प्रेस वार्ता करते हुए बताया कि आठ अगस्त को बैंक आफ बड़ौदा शाखा सैयदसरांवा की बैंक मैनेजर दीक्षा सोनकर पर तेजाब से हमला किया गया था। चिल्ला शहबाजी गांव के सामने बाइक सवार दो युवकों ने स्कूटी को ओवरटेक करने के बाद बैंक मैनेजर पर एसिड फेंका था। पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की तो एक बैंक कर्मी की भूमिका संदिग्ध लगी। बैंक आफ बड़ौदा में बतौर बीसी तैनात रामचंद्र पासी पुत्र रामलखन पासी निवासी नटका, चरवा लोन कराने का ठेका लेता था। इसके लिए वह लोगों से मोटी रकम लेता था। उसने बाकायदा गिरोह बना रखा था। 

सैयदसरांवा के पूर्व प्रधान आजम पुत्र मो. आबाद भी बैंक मैनेजर दीक्षा सोनकर से परेशान था। रामचंद्र और आजम ने प्लान बनाया कि मैनेजर को यदि डराया जाए तो वह अपना तबादला कर कहीं और चली जाएगी। इसके तहत दोनों ने धर्मेंद्र कुमार निवासी रामपुर, चरवा, विनोद कुमार निवासी घूरी, संतलाल निवासी इंगवा, काठगांव, पिपरी, लवकेश निवासी कोटिया, सरायअकिल, औसाफ निवासी सैयदसरांवा, दिलीप निवासी रामपुर, चरवा और मानसिंह निवासी काठगांव, पिपरी को शामिल किया। रणनीति के तहत दिलीप और मान सिंह ने ही बैंक मैनेजर पर एसिड फेंका था। 

पुलिस मुठभेड़ में बुधवार की भोर को गुंगवा बाग से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, जबकि घटना के मास्टर माइंड रामचंद्र, आजम समेत सात आरोपियों को पुलिस ने गुरुवार को अलग-अलग जगहों से गिरफ्तार किया। पकड़े गए आरोपियों के पास से सात अदद मोबाईल फोन, तेजाब फेकने वाली पिपिया, दो मोटरसाइकिल बरामद की गई है। सभी आरोपियों का पुलिस ने जेल भेज दिया है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static