NIA के छापेमारी के बाद PFI के पक्ष में आये सपा सांसद बर्क : पूछा, आखिर उसका जुर्म क्‍या है?

punjabkesari.in Thursday, Sep 22, 2022 - 09:59 PM (IST)

संभल: पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के ठिकानों पर बृहस्‍पतिवार को राष्‍ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) और आतंकवाद रोधी दस्‍ते (एटीएस) की छापेमारी और उसके पदाधिकारियों की गिरफ्तारी के अभियान के बीच संभल से समाजवादी पार्टी (सपा) के सांसद शफीक-उर-रहमान बर्क ने पीएफआई की हिमायत करते हुए कहा कि इस संगठन के लोगों का जुर्म क्‍या है।

बर्क ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में पीएफआई के खिलाफ जारी कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए कहा कि आखिर उसका जुर्म क्‍या है और देश की तमाम संस्‍थाओं की तरह पीएफआई भी एक संस्था है, जैसे दूसरी संस्‍थाएं अपने कार्यक्रम चलाती हैं, वैसे ही पीएफआई भी अपने कार्यक्रम संचालित करता है। उन्होंने कहा कि यह संस्‍था देश के मुसलमानों की समस्‍याओं से लड़ रही है। आखिर उसके लोगों को क्यों गिरफ्तार किया जा रहा है।

गौरतलब है कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ वर्ष 2019 में उत्‍तर प्रदेश में हुई हिंसा के मामले में पीएफआई का नाम आया था। एनआईए-पीएफआई के वित्‍तपोषण को लेकर केरल, उत्‍तर प्रदेश और तमिलनाडु समेत कई राज्‍यों में छापेमारी कर रही है। इस दौरान अनेक लोगों को गिरफ्तार किया गया है। सपा सांसद ने मुरादाबाद में एक लड़की के साथ हुई कथित बदसुलूकी पर कहा कि सवाल कौम का नहीं, बल्कि एक बच्ची की इज्जत का है। उन्होंने कहा कि लड़की किसी जाति-धर्म की हो, मुल्क इसे बर्दाश्त नहीं करेगा, यह बेहद शर्मनाक है।

उन्होंने कहा कि जिन्होंने यह काम किया है उन्हें सख्त सजा मिले। उन्होंने कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' का समर्थन करते हुए कहा कि यह यात्रा मुल्क को जोड़ने के लिए है। सपा नेता ने कहा कि कांग्रेस एक अच्छा मकसद लेकर चली है और मुल्क की बरबादी रोकने के लिए भारत को फिर से जोड़ने की यात्रा निकालना अच्‍छी पहल है। उन्होंने कहा कि सभी विपक्षी पार्टियों को इसका समर्थन करना चाहिए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static