''अपने उद्देश्य में सफल रहा अखिलेश यादव का आह्वान''

punjabkesari.in Thursday, Sep 10, 2020 - 09:39 AM (IST)

लखनऊः अपने अध्यक्ष अखिलेश यादव के आह्वान को पूरी तरह कामयाब बताते हुए समाजवादी पार्टी (सपा) ने कहा है कि युवाओं की नाराजगी ने सरकार की नाकामी पर मुहर लगा दी है। कांग्रेस ने भी पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा इस आह्वान का परोक्ष रूप से समर्थन किए जाने के बाद रात 9 बजे दीए जलाए। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने युवाओं से जुड़े बेरोजगारी तथा अन्य मुद्दों को लेकर बुधवार रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घर की लाइट बंद करने का आह्वान किया था।

सपा का दावा है कि यह आह्वान अपने मकसद में कामयाब रहा है। अखिलेश ने एक ट्वीट में कहा "आज आने वाले कल के बदलाव का इतिहास लिख दिया। सियासत के आसमान पर रोशनी से इंकलाब लिख दिया।" उन्होंने ट्वीट में '9 बजे 9 मिनट' हैशटैग का इस्तेमाल करते हुए कहा "आज युवाओं ने भाजपा के शासनकाल की उल्टी गिनती की शुरुआत कर दी है। हमने नौजवानों की खातिर मोमबत्तियां जलाकर हमेशा की तरह आज भी उनका साथ दिया है और देते रहेंगे।"

पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने बताया, ‘‘ सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का आह्वान पूरी तरह सफल रहा। प्रदेश का युवा राज्य सरकार की खराब नीतियों के कारण बढ़ती बेरोजगारी से परेशान है और सपा अध्यक्ष के आह्वान को उनका पूरा समर्थन मिला है।'' उन्होंने कहा कि सरकार की नीतियों के खिलाफ युवाओं ने जब-जब झंडा थामा है, तब-तब सत्ता परिवर्तन हुआ है। उनका कहना था कि प्रदेश में बढ़ती बेरोजगारी से नौजवान त्रस्त हैं और आगामी विधानसभा चुनाव में वे सत्तारूढ़ भाजपा को सब सिखाएंगे।

उधर, कांग्रेस ने भी रात 9 बजे दीए जलाए। प्रदेश काँग्रेस कमेटी के मीडिया संयोजक ललन कुमार ने राजधानी लखनऊ के बख्शी का तालाब क्षेत्र में दीया जलाकर देश के बेरोजगार युवाओं के हक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरूद्ध आवाज़ उठाई। उन्होंने कहा कि आज नौ सितम्बर नौ बजे नौ मिनट के नाम पर चलाए गए इस अभियान में पूरे देश से बेरोजगारों ने भाग लिया एवं सरकार से रोज़गार देने की माँग की।

दरअसल कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने अखिलेश द्वारा किए गए आह्वान के बाद '9 बजे 9 मिनटयुवाओंकीबात' हैशटैग से एक ट्वीट कर कहा था "इस देश का युवा अपनी आवाज सुनाना चाहता है। अपनी रूकी हुई भर्तियों, परीक्षाओं की तिथियों, अपॉइंटमेंट एवं नई नौकरियों को लेकर युवा अपनी आवाज उठा रहा है। आज हम सबको युवाओं की रोजगार की लड़ाई में उनका साथ देने की जरूरत है।" 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static