आल इज वेल का ढिढोरा पीटने वाली सरकार की खुली पोल, घण्टों फर्श पर तड़पती रही बुजुर्ग महिला

punjabkesari.in Friday, May 07, 2021 - 02:35 PM (IST)

अम्बेडकरनगर: इस कोरोना महामारी के बीच अम्बेडकरनगर में स्वास्थ्य सेवाएं बदहाल है। जिला अस्पताल की हालत बद से  बदत्तर हो गई है। यहां वेड ऑक्सीजन और स्ट्रेचर के लिए हाहाकार मचा है।  जो तस्वीरे सामने आई वो दिल दहला देने वाली है। यहां इलाज के अभाव में महिला पत्रकार के  पति  की मौत हो गई। तो वही यहाँ इलाज के लिए आई एक बुजुर्ग महिला को पहले तो स्ट्रेचर नहीं मिला बुजुर्ग के साथ आये उसके पुत्र ने उसे गोद मे लेकर किसी तरह से दाखिल तो करा दिया लेकिन वहां वेड नही मिला। महिला को फर्श पर लिटा दिया गया, बुजुर्ग महिला प्यास से तड़पती रही पानी के लिए पुकार लगाती रही लेकिन उसकी सुधि लेने वाला कोई नही था और बुजुर्ग महिला घण्टो फर्श पर पड़ी तड़पती रहीऔर अपनी प्यास बुझाने के लिए पानी पिला दो कोई पानी पिला दो की रट लगाए फर्श पर ही तड़पती  रही । 

PunjabKesariबताया जा रहा है कि सांस फूलने से परेशान एक मरीज को एम्बुलेंस से जिला अस्पताल पहुंचा तो डॉक्टरों ने भर्ती करने से इंकार कर दिया जबकि उसे ऑक्सीजन की आवश्यकता थी अरोप है कि मरीज को कोरोना के नाम पर कोरोना वार्ड मे भेज रहे है। जबिक मरीज की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव था फिर भी भर्ती करने से इनकार कर दिया गया। हद तो तब हो गई जब उसके परिजानों ने भर्ती के लिए गिडगिडते रहे उसके बावजूद उसके साथ बदसलूकी भी की गई।
PunjabKesari
गौरतबल है कि बीती रात्रि महिला पत्रकार के पति की तवियत खराब हो गई तो जिला अस्पताल में वेड न होने की बात कहकर वापस कर दिया गया। और मेडिकल कालेज ले जाने को कहा गया और बिना इलाज के ही रेफर कर दिया गया। इस बीच महिला पत्रकार के पति की मौत हो गई।इससे साफ जाहिर है कि ये वीडियो स्वास्थ विभाग की आल इज वेल का ढिढोरा पीटने वालो का पोल खोल दिया है।अब इससे बदतर व्यवस्था और क्या हो सकती है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static