आनंद गिरी का झूठ पकड़ने के लिए CBI करा सकती है लाई डिटेक्टर और पॉलीग्राफ टेस्ट

punjabkesari.in Sunday, Oct 03, 2021 - 10:36 AM (IST)

प्रयागराज: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि (Mahant Narendra Giri) के मौत मामले सीबीआई (CBI) जांच कर रही है। जिसके चलते CBI आरोपी आनंद गिरी की लाई डिटेक्टर(Lie detector) और पॉलीग्राफ टेस्ट (Polygraph test) भी करा सकती है। सूत्रों ने बताया कि सीबीआई आनंद गिरी की झूठ पकड़ने के लिए लाई डिटेक्टर जांच के लिए अदालत (Court) से अनुमति लेने की तैयारी कर रही है।
PunjabKesari
सूत्रों का कहना है कि सीबीआई महंत नरेंद्र गिरि की मौत की जांच में आरोपी का अपराध सिद्ध करने के लिए कोई भी पहलू नहीं छोड़ना चाहती। लाई डिटेक्टर जांच भी उसी की एक कड़ी है। सीबीआई नरेंद्र गिरि की मौत को लेकर पुख्ता सबूत जुटाने का पूरा प्रयास कर रही है। टीम आनंद गिरि को लेकर हरिद्वार उसके आश्रम भी गयी थी, वहां से भी कुछ सामान अपने कब्जे में लिया है। 
PunjabKesari
गौरतलब है कि महंत नरेंद्र गिरि( Mahant Narendra Giri) 20 सितंबर को अपने मठ के एक कमरे में मृत पाये गए थे। पुलिस के मुताबिक, गिरि ने कथित तौर पर पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी। वहीं उनके शव के पास 11 पन्नों का एक सुसाइड नोट भी बरामद पड़ा मिला। जिसमें उन्होंने आनंद गिरि, आद्या प्रसाद उनके बेटे संदीप पर गंभीर आरोप लगाएं हैं। जिसके चलते तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static