सेना ने चालू किया सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में बंद पड़ा ऑक्सीजन प्लांट, कोरोना मरीजों को मिलेगी मदद

5/8/2021 8:25:46 PM

इटावा: उत्तर प्रदेश के इटावा जिले मे स्थापित सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी मे लंबे समय से बंद पड़े ऑक्सीजन प्लांट को सेना के जवानों ने कड़ी मशक्कत के बाद चालू कर दिया। 

कुलसचिव सुरेश चंद्र शर्मा ने बताया कि यूनिवर्सिटी में दो आक्सीजन प्लांट पिछले दो वर्षों से खराब पड़े थे जिनमें से एक प्लांट को सेना के जवानों ने शनिवार को चालू कर दिया है। 509 आर्मी बेस वकर्शाप आगरा की 10 सदस्यीय टीम आक्सीजन उत्पादन प्लांट की रिपेयरिंग करने के लिए एक मई शाम आ गई थी। दो दिन तक लगातार प्लांट की कमियों का अध्ययन किया। उस समय प्लांट में कंप्रेसर पार्ट खराब पाया गया था जिसको लेकर टीम वापस आगरा चली गई थी। शुक्रवार की शाम आर्मी टीम के जवान कंप्रेसर पार्ट सहित अन्य उपकरणों को लेकर सैफई पहुंचे और प्लांट की रिपेयरिंग करने में जुट गए थे। आज सुबह 11 बजे से प्लांट को पूरी तरह से चालू कर दिया गया है।      

 सेना के एक अफसर ने बताया कि विश्वविद्यालय में दो प्लांट खराब पड़े थे जिनमें एक प्लांट को पूरी तरह से चालू कर दिया गया है। जिससे विश्वविद्यालय की 50 फीसदी आक्सीजन की मांग इस प्लांट से पूरी होती रहेगी और दूसरा प्लांट जो अभी बंद पड़ा है उसको भी हम चेक कर रहे हैं। उम्मीद है कि भी जो खराबी होगी उसको दूर करने का प्रयास किया जाए। छह जनवरी 2008 को तत्कालीन उत्तर प्रदेश सरकार के चिकित्सा शिक्षा मंत्री द्वारा निदेशक डायरेक्टर ब्रिगेडियर टी प्रभाकर की मौजूदगी में सैफई में आक्सीजन उत्पादन प्लांट का उद्घाटन किया गया था।

इस प्लांट में आक्सीजन गैस यहीं पर निर्मित की जाती थी और पूरे अस्पताल को सप्लाई पाइप लाइन के माध्यम से दी जाती थी, लेकिन बीते 2 वर्षों से आक्सीजन प्लांट में खराबी आने के कारण चिकित्सा विश्वविद्यालय गाजियाबाद व कानपुर से वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में आक्सीजन मंगाकर आपूर्ति कर रहा था।


Content Writer

Umakant yadav

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static