भ्रष्टाचार के मामले में राज्य सरकार की नीति ''जीरो टॉलरेंस'' की हैः CM योगी

9/16/2020 7:58:30 AM

लखनऊः  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस की चुनौती का सामना करते हुए सभी सावधानियां बरतकर विकास कार्यों को आगे बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने अपने सरकारी आवास पर वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से बस्ती मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान कहा कि कोविड-19 महामारी ने विकास कार्यों पर असर जरूर डाला है, लेकिन हमें इसकी चुनौती का सामना करते हुए सभी सावधानियां बरत कर विकास कार्यों को आगे बढ़ाना है।

योगी ने जनपद बस्ती में सड़क निर्माण में भ्रष्टाचार के दोषी पाए गए अधिशासी अभियन्ता की सम्पत्ति जब्त किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के मामले में राज्य सरकार की ‘जीरो टॉलरेंस'  की नीति है। भ्रष्टाचार में संलिप्त पाए गए लोगों के खिलाफ प्रदेश सरकार कड़ी कार्रवाई करने के लिए प्रतिबद्ध है। बैठक में प्रमुख सचिव (लोक निर्माण विभाग) ने मुख्यमंत्री को बताया कि सम्बन्धित अधिशासी अभियन्ता को पूर्व में ही सेवा से बर्खास्त भी किया जा चुका है। योगी ने कहा कि ‘एक जनपद, एक उत्पाद' योजना के तहत बस्ती मंडल के जिलों के परम्परागत विशिष्ट उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए प्रभावी कार्य योजना तैयार की जाए।

उन्होंने कहा कि सिद्धार्थनगर जिले में काला नमक चावल की खेती को जीरो बजट खेती से जोड़कर बढ़ावा दिया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्याप्त कर्मचारियों वाली एजेन्सियां ही कार्यदायी संस्था के रूप में कार्य करें। जिनके पास अपेक्षित संख्या में कर्मचारी उपलब्ध न हो, उन्हें कार्यदायी संस्था न बनाया जाए। उन्होंने शासन एवं जिला स्तर पर इस बात पर विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश दिए।

 

 


Moulshree Tripathi

Related News