चित्रकूट जेल गोलीकांडः जिला कारागार के अधीक्षक और जेलर पाए गए दोषी, सस्पेंड

5/15/2021 9:22:41 AM

लखनऊः  उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिला जेल में शुक्रवार को हुयी गैंगवार को लेकर राज्य सरकार ने त्वरित कारर्वाई करते हुये जेल अधीक्षक और जेलर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।  अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने देर रात इस सिलसिले में एक आदेश जारी किया है जिसके अनुसार जेल अधीक्षक एसपी त्रिपाठी और जेलर महेन्द्र पाल को कार्य के प्रति उदासीनता और शिथिलता बरतने के लिये प्रथम द्दष्टया दोषी पाया गया है। निलंबन के दौरान त्रिपाठी डॉक्टर संपूर्णानंद कारागार प्रशिक्षण संस्थान लखनऊ से संबद्ध रहेंगे।       

बता दें कि त्रिपाठी के स्थान पर कासगंज के जिला कारागार अधीक्षक अशोक कुमार सागर को चित्रकूट भेजा गया है जबकि जेलर का कार्यभार अयोध्या जिला जेल के कारापाल सीपी त्रिपाठी को दिया गया है। उधर लखनऊ परिक्षेत्र के उप महानिरीक्षक संजीव त्रिपाठी को प्रयागराज भेजा गया है। उनको अयोध्या परिक्षेत्र का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है वहीं मथुरा में वरिष्ठ अधीक्षक कारागार शैलेन्द्र कुमार मैत्रेय को श्री संजीव त्रिपाठी के स्थान पर लखनऊ भेजा गया है।

गौरतलब है कि शुक्रवार सुबह चित्रकूट जिला जेल में छिड़ी गैंगवार में अंशु दीक्षित नामक अपराधी ने गैंगस्टर मुकीम काला और मेराजुद्दीन नामक दो शातिरों की हत्या कर दी थी। बाद में सुरक्षा बलों ने अंशु को मार गिराया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर गंभीर रूख अपनाते हुये घटना की जांच के लिये तीन सदस्यीय टीम की घोषणा की थी और रिपोटर् के लिये छह घंटे का समय दिया था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Moulshree Tripathi

Recommended News

static