डिप्टी CM बृजेश पाठक बोले- इमरजेंसी में 24 घंटे उपलब्ध रहें डॉक्टर, ड्यूटी का लगाया जाए चार्ट

punjabkesari.in Monday, Apr 25, 2022 - 03:27 PM (IST)

गोंडा: उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने सोमवार को कहा कि अस्पताल पहुंचे मरीजों से चिकित्सक व मेडिकल स्टाफ अच्छा व्यवहार करें। सकिर्ट हाउस में स्वास्थ विभाग के अधिकारियों संग समीक्षा बैठक में पाठक ने सोमवार को कहा कि अस्पतालों में मरीजों को बेहतर सुविधाएं मिलें, चिकित्सकों के ड्यूटी का चार्ट लगाया जाए। तथा उनके आने-जाने का समय निर्धारित हो। इमरजेंसी में 24 घंटे डॉक्टर उपलब्ध रहें।

उन्होंने कहा ‘‘ जिले में जितने भी टीवी के मरीज हैं सभी अधिकारी उन्हें गोद ले। गोद लेने का मतलब उन्हें चिन्हित करें तथा इसकी रिपोटर् शासन को दें। हम 2025 तक उत्तर प्रदेश को टीवी मुक्त प्रदेश बनाएंगे। अस्पताल में मरीजों को भगवान की तरह माना जाए। उनके साथ घर जैसा व्यवहार हो किसी भी प्रकार के दुर्व्यवहार की शिकायत नहीं आनी चाहिए। '' उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रसव के बाद जच्चा-बच्चा को अस्पताल में 48 घंटे रखा जाए। इस दौरान जितने भी रोग प्रतिरोधक टीके लगने हैं। उन्हें लगाने के बाद ही अस्पताल से घर भेजा जाये। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि बिजली पानी सड़क की अच्छी व्यवस्था रहे।

विद्यालय में बच्चे व शिक्षक समय से पहुंचे। लोगों को आसानी से शुद्ध पेयजल मिल सके अस्पताल पहुंचे मरीजों से चिकित्सक व मेडिकल स्टाफ अच्छे व्यवहार करें। समीक्षा बैठक के बाद सकिर्ट हाउस में पत्रकारों को जानकारी देते हुए उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने कहा कि गोण्डा को हर क्षेत्र में सुंदर बनाने के लिये कदम उठाये जा रहे है। प्रदेश सरकार गरीबों दलितों वंचितों समेत सभी वर्गों के लिये समान कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि एक माह के बाद सभी कार्यों कई पुन: समीक्षा की जायेगी। उन्होंने निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया। डिप्टी सीएम सकिर्ट हाउस से मनकापुर संचार बिहार में भाजपा के प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल होने रवाना हो गये।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static