जिला पंचायत अध्यक्ष चुनावः सपा के बागी बने भदोही में निर्दल की जीत का कारक

punjabkesari.in Tuesday, Jul 06, 2021 - 04:04 PM (IST)

भदोही: उत्तर प्रदेश में हाल ही में सम्पन्न जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में समाजवादी पार्टी की करारी हार के पीछे बागी पंचायत सदस्यों की महत्वपूर्ण भूमिका रही। सपा की जिला इकाई ऐसे सदस्यों की सूची बना कर अनुशासनात्मक कारर्वाई की अनुशंसा के साथ पार्टी नेतृत्व को भेजने की तैयारी कर रहा है।

पार्टी सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि जिले के सृजन के बाद से भदोही में जिला अध्यक्ष की इस सीट पर सपा का कब्जा रहा जिसमें ज्ञानपुर के बाहूबली विधायक विजय मिश्रा जो कभी सपा के धुरंधर नेता थे, उनका तो एक क्षत्रराज था लेकिन इस जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में निर्दल प्रत्याशी व भदोही भाजपा विधायक रवीन्द्र नाथ त्रिपाठी के भाई अनिरूध्द त्रिपाठी ने जीत दर्ज करायी है। इस सीट से सपा ने अपने पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री कुंवर प्रमोद चन्द्र मौर्या की बहू श्याम कुमारी को प्रत्याशी घोषित किया था। कुंवर प्रमोद चन्द्र मौर्या का दावा था कि उनके पास पांच सदस्य ऐसे हैं जो उन्ही को मत देंगे लेकिन हुआ इसके उलट। सपा प्रत्याशी दो प्रस्तावक के आभाव में नामांकन तक नहीं कर पायी।

वहीं सपा के कुंवर प्रमोद चन्द्र मौर्य यादव कुछ जिला पंचायत सदस्यों को ऐसा अपमानित किया कि वह सपा छोड़ कर भाग खड़े हुए और निर्दल प्रत्याशी एवं मौजूदा जिला पंचायत अध्यक्ष अनिरूध्द त्रिपाठी के घेमे में जा मिले। भागने वालों में युवजन सभा के पूर्व जिला अध्यक्ष वाडर् नम्बर 13 से सदस्य मनोज यादव, पूर्व जिलाध्यक्ष लोहिया वाहिनी वाडर् नम्बर 2 श्यामधर यादव, वाडर् नम्बर 1 से पूर्व विधान सभा अध्यक्ष भदोही पन्ना लाल यादव के रिश्तेदार सीमा, जगदीश यादव वाडर् नम्बर 22, सूबेदार यादव वाडर् नम्बर 23 ऐसे सपाई दिग्गज व कभी पद पर रहने वाले जिला पंचायत सदस्य शामिल थे। हार के बाद भदोही जिले के कार्यवाहक जिलाध्यक्ष बाल विद्या विकास यादव जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में गद्दारी करने वाले ऐसे लोगों की लिस्ट तैयार कर समाजवादी पाटर्ी के मुख्यालय पर भेजने की तैयारी कर रहे हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Moulshree Tripathi

Related News

Recommended News

static