होली खेलकर बाथरूम में नहाने गए फैक्ट्री मालिक और उसकी पत्नी की मौत, परिजनों में मचा कोहराम

punjabkesari.in Thursday, Mar 09, 2023 - 12:48 PM (IST)

गाजियाबाद: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में एक दर्दनाक घटना सामने आई है। जहां पर होली खेलकर बाथरूम में नहाने गए फैक्ट्री मालिक और उसकी पत्नी की मौत हो गई। आशंका जताई जा रही है कि दोनो की मौत बाथरूम के अंदर लगे गीजर गैस की वजह से मौत हुई है। परिजनों को उस समय जानकारी हुई जब काफी देर तक पति- पत्नी बाथरूम से बाहर नहीं निकले। परिजनों ने पड़ोसियों की मदद से बाथरुम का दरवाजा तोड़कर बाहर निकाला। आनन- फानन में   यशोदा हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां दोनों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि विधिक कार्रवाई के बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

PunjabKesari

जानकारी के मुताबिक मामला कस्बा मुरादनगर की अग्रसेन कॉलोनी फेस-वन का है। जहां पर 'दीपक गोयल (40 वर्ष) और पत्नी शिल्पी (36 वर्ष) अपने 2 बच्चों के साथ रहते थे। शाम को होली खेलने के बाद बाथरूम में नहाने के लिए गए। जब एक घंटे तक बाहर नहीं निकले तो परिजनों को किसी अनहोनी की आशंका हुई। दरवाजा तोड़कर कुंडी खोला गया तो,पति-पत्नी बेसुध जमीन पर पड़े मिले।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि दीपक गोयल ने कुछ महीनों पहले ही केमिकल की फैक्ट्री गाजियाबाद में खोली थी। पत्नी शिल्पी हाउस वाइफ थी। परिवार में दो बच्चे थे, जिसमें बेटी 14 साल और बेटा 12 साल का है। माता पिता की मौत के बाद बच्चों का रो- रोकर बुरा हाल हो गया है। डॉक्टर ने बताया कि गैस गीजर के बर्नर्स से पैदा होने वाली आग से ऑक्सीजन की खपत अधिक होती है और कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा बढ़ जाती है। कार्बन मोनोऑक्साइड भी बनती है। यह रंगहीन और गंधहीन गैस होने के साथ-साथ बेहद जहरीली होती है। यही गैस मौत का कारण बन जाती है। बिना वेंटिलेशन वाले बाथरूम में गैस गीजर से निकलने वाली गैस के कारण खून में ऑक्सीजन की मात्रा कम हो जाती है। इससे शरीर के लगभग सभी अंग प्रभावित होने लगते हैं। दिल तथा दिमाग को जरूरत के अनुसार ऑक्सीजन न मिलने के कारण व्यक्ति बेहोशी में चला जाता है और उसकी मौत हो सकती है। उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत की वजह साफ होगी। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static