फर्रुखाबाद: सड़क किनारे खड़े पुराने वाहन पुलिस के लिए बने सरदर्द, लगा रहता है ट्रेफिक जाम

punjabkesari.in Tuesday, Mar 16, 2021 - 10:09 AM (IST)

फर्रुखाबाद: उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद के पुलिस थानों में सालों से पुराने वाहनों की भरमार है। इसलिए चालान के समय सीज किए गए वाहनों को खड़ा करने की समस्या है। वहीं हाईवे पर चौकियों के आसपास वाहन खड़े हुए हैं, जिससे हाईवे पर जाम लगने की समस्या भी आए दिन आती रहती है। कई थानों में तो पुलिसकर्मियों को अपने वाहन खड़े करने में भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

यूपी पुलिस के सामने वैसे तो अपराध को रोकने समेत अन्य कई चुनौतियां सामने आती रहती हैं, लेकिन हाल ही में हुए यातायात नियमों में बदलाव के कारण अब सबसे बड़ी मुश्किल यह आ रही है कि चेकिंग के दौरान सीज किए गए वाहनों को आखिर खड़ा कहां किया जाए। हालत यह है कि अब मजबूरन पुलिस लाइन ग्राउंड में बड़ी संख्या में सीज किए गए वाहनों को खड़ा करना पड़ रहा है। फिलहाल पुलिस के पास इन वाहनों की समस्या से निकलने का कोई रास्ता भी नहीं मिलता दिख रहा है। सीज वाहनों को खड़ा करने की जगह नहीं। थाने में कबाड़ हो रहे पुराने वाहन शहर के सभी थानों में पुराने वाहनों की भरमार है। एक भी थाना ऐसा नहीं बचा है, जहां पर एक साथ 10 वाहन को सीज करके खड़ा किया जा सके। शहर के थानों में तकरीबन 60 फीसदी जगह कबाड़ हो रहे टू-व्हीलर और फोर-व्हीलर वाहनों से घिरी हुई है। इतना ही नहीं कई थानों में तो पुलिसकर्मियों को अपने वाहन खड़े करने तक में बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सीज वाहनों को खड़ा करने की जगह नहीं है।

जिले के थानों में करीब 1750 सीज वाहन खड़े हैं। वाहनों की बढ़ती संख्या देखकर पुलिस के सामने अब बड़ी चुनौती यह है कि आखिर रोजाना सीज किए जा रहे वाहनों को सुरक्षित तरीके से कहां खड़ा किया जाए। सभी थानों में वर्षों से पुराने वाहनों की भरमार है। एक के ऊपर एक गाड़ियां रखी हैं। कई थानों के बाहर तक गाड़ियां खड़ी की गई हैं। ऐसे में पुलिस भी क्या करे। जल्द शुरू होगी वाहनों की नीलामी प्रक्रिया पुलिस प्रशासन ने पुलिस लाइन में वाहनों को खड़ा करना शुरू कर दिया है। वहीं जब इस समस्या को पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा के सामने उठाया तो उन्होंने कहा कि थानों में वाहन खड़ा होने की समस्या है। जल्द ही मले को संज्ञान में लेकर थानों और चौकियों में खड़े वाहनों के मालिकों को जल्द नोटिस देकर उनको सुपुर्द करने की बात कही है। इसके अलावा जिन वाहनों के स्वामी नहीं मिलते हैं। उन वाहनों की नीलामी प्रक्रिया जल्द शुरू की जाएगी। साथ ही साथ जगह भी तलाशी जा रही है जहां पर इन वाहनों को खड़ा किया जा सके। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static