गाजियाबाद मर्डर केसः बसपा के पूर्व MLA वहाब चौधरी समेत तीन लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, ये है पूरी स्टोरी

punjabkesari.in Monday, Jul 12, 2021 - 09:24 PM (IST)

गाजियाबाद: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में 18 वर्षीय एक व्यक्ति की हत्या के मामले में सोमवार को बसपा के पूर्व विधायक और उसके भतीजे समेत तीन लोगों को  पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि रविवार को समीर नामक व्यक्ति का शव प्रीत विहार कॉलोनी के कब्रिस्तान के निकट मिला था। पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) इराज राजा ने बताया कि आरोपियों की पहचान अहद, मुरादनगर से बसपा के पूर्व विधायक और वर्तमान में भीम आर्मी पार्टी के प्रमुख चंद्रशेखर उर्फ ​​रावण से जुड़े वहाब चौधरी और आफताब के रूप में हुई है।

पुलिस ने वहाब के कब्जे से .32 बोर की एक पिस्तौल और दो कारतूस बरामद किये हैं। पूछताछ के दौरान मुख्य आरोपी अहद ने पुलिस को बताया कि उसने शनिवार शाम समीर को अपने घर से कुछ खाने का सामान लेने के बहाने फोन किया और उसी रात 10 बजे उसने प्रीत विहार-1 कब्रिस्तान के पास अपने साथियों के साथ कथित तौर पर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। अहद ने पुलिस को बताया कि पिछले साल उसकी मां को उसके चरित्र पर संदेह के आधार पर जान से मार दिया गया था, जिसके बाद उसे समीर, उसके साथी शाहरुख, पिता आस मोहम्मद, सौतेली मां भूरी उर्फ ​​तबस्सुम के साथ मुराद नगर पुलिस ने जेल भेज दिया था।

अहद ने कहा कि अन्य लोगों को इस मामले में जमानत मिल गई जबकि उसका पिता अभी भी इस मामले में जेल में हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि जमानत मिलने के बाद समीर को फिर से गैंगस्टर एक्ट के तहत जेल भेज दिया गया और डेढ़ महीने बाद जमानत मिल गई। उसने कहा कि उसके चाचा वहाब चौधरी ने उन्हें अपने आवास पर बुलाया और कहा कि उनके पिता अभी भी जेल में हैं जबकि समीर और उनकी सौतेली मां खुलेआम घूम रहे हैं जिसके कारण उन्हें क्षेत्र में अपमान का सामना करना पड़ रहा है और उन्हें समीर को मारने के लिए कहा। पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार लोगों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Moulshree Tripathi

Related News

Recommended News

static