ज्ञानवापी विवाद पर गिरिराज सिंह की प्रतिक्रिया, कहा- ये नेहरू की तुष्टिकरण की राजनीति का नतीजा

punjabkesari.in Sunday, May 15, 2022 - 05:45 PM (IST)

मेरठ: यूपी के मेरठ में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने ज्ञानवापी मस्जिद विवाद पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि बंटवारे के समय प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू को चाहिए था कि आक्रांताओं की सारी निशानी मिटा देते, लेकिन उन्‍होंने तुष्टिकरण की राजनीति के लिए काशी, मथुरा और अयोध्या के विवाद को बनाए रखा। यही नहीं, नेहरू ने औरंगजेब और बाबर के नाम पर सड़क भी रखी। वहीं, गिरिराज सिंह ने ज्ञानवापी मस्जिद विवाद के लिए नेहरू को ही जिम्‍मेदार ठहराया है। 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश में समान जनसंख्या कानून लागू होना चाहिए। यह हिंदू, मुसलमान, सिख, ईसाई सभी पर एक समान लागू हो। गिरिराज सिंह ने कहा कि चीन अगर जनसंख्या कानून नहीं लाता तो विकसित राष्ट्र नहीं होता। उन्‍होंने कहा कि हम एक मिनट में तैंतीस बच्चे पैदा कर रहे हैं, जबकि चीन एक मिनट में दस से ग्यारह बच्चे पैदा कर रहा है।

बता दें कि केंद्रीय मंत्री गिरिराज रविवार को मेरठ में जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के राष्ट्रीय अधिवेशन में पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि संसाधन सीमित और प्रतिवर्ष दो करोड़ के ज्‍यादा बच्चे पैदा हो रहे हैं। जरूरत है कि देश में जनसंख्या को लेकर कड़ा कानून बने। एक देश एक जनसंख्या कानून बने।


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static