मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के तहत कोचिंग विद्यार्थियों की संख्या बढ़ायें: लू

punjabkesari.in Friday, Nov 25, 2022 - 12:47 AM (IST)

रायबरेली: उत्तर प्रदेश में परिवहन विभाग के प्रमुख सचिव एल. वेंकटेश्वर लू ने गुरूवार को यहां मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की प्रगति की समीक्षा की और छात्र छात्राओं की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए।      

विद्यालयों के छात्र-छात्राओं का चयन करने के निर्देश
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजनान्तर्गत विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाएं सिविल, नीट, एडीए, जेईई, सीडीएस आदि की तैयारी करने वाले मेधावी छात्रों का चयन कर उन्हें उच्च स्तरीय कोचिंग की सुविधा प्रदान की जाए। अभ्युदय योजनान्तर्गत छात्र-छात्राओं की संख्या में वृद्धि करने के प्रयास किये जाएं, साथ ही संघ लोक सेवा आयोग, उत्तर प्रदेश सेवा आयोग, उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा समय समय पर विज्ञापित किये जाने वाले पदों के लिए प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले विभिन्न स्थानीय विद्यालयों के छात्र-छात्राओं का चयन किया जाए।      

प्रत्येक जिले में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना प्रारम्भ
प्रमुख सचिव ने कहा कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना उन छात्र-छात्राओं के लिए वरदान सरीखी है जो प्रतिभाशाली है, जिनमें विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं को उत्तीर्ण करने की क्षमता है लेकिन किन्हीं कारणवश वे महंगी कोचिंग ज्वाइन नहीं कर सकते। ऐसे प्रतियोगी परीक्षार्थियों के लिए प्रत्येक जिले में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना प्रारम्भ की गई है जिसमें विभिन्न क्षेत्रों के विषय विशेषज्ञों एवं युवा प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा छात्र-छात्राओं को नि:शुल्क कोचिंग प्रदान की जाती है।       

उन्होँने कहा कि जिले के युवा अधिकारी जो 2 से 5 वर्षो में आईएएस एवं पीसीएस या अन्य परीक्षाएं उत्तीर्ण कर सेवा में आए हैं, उनसे कोचिंग की सेवाएं प्राप्त की जाएं।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static