मौनी अमावस्या स्नान पर्व के सकुशल संपन्न होने पर नरेंद्र गिरी ने की CM योगी की सराहना, रावत सरकार को दी ये नसीहत

punjabkesari.in Friday, Feb 12, 2021 - 11:59 AM (IST)

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश के प्रय़ागराज में चल रहे माघ मेला के सबसे बड़े स्नान पर्व मौनी अमावस्या के सकुशल संपन्न होने पर साधु-संतों की सबसे बड़ी संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने योगी सरकार की सराहना की है। वहीं हरिद्वार महाकुंभ की तैयारियों को लेकर उत्तराखंड सरकार को नसीहत दी है। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है कि योगी सरकार के बेहतर इंतजामों की वजह से कोविड-19 के संक्रमण के बावजूद लाखों श्रद्धालुओं ने संगम में आस्था की डुबकी लगाई है। जबकि हरिद्वार में होने वाले महाकुंभ को लेकर ऐसी तैयारी देखने को नहीं मिल रही है।

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष ने कहा है कि उत्तराखंड सरकार के मुख्यमंत्री और अधिकारी भी प्रयागराज की ही तरह मेला कराने में सक्षम हैं लेकिन इसके लिए उन्हें आत्मबल की जरूरत है। महंत नरेंद्र गिरी ने मांग की है कि प्रयागराज के माघ मेले की तर्ज पर ही उत्तराखंड की त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार को भी हरिद्वार महाकुंभ की तैयारियां करनी चाहिए। उन्होंने कहा है कि सभी संत महात्मा और अखाड़ा परिषद उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के साथ हैं और कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन भी करने को तैयार हैं। महंत नरेंद्र गिरी ने कहा है कि हरिद्वार महाकुंभ में अभी एक माह का समय है। ऐसे में उत्तराखंड सरकार चाहे तो प्रयागराज के अधिकारियों से बातचीत कर मेले की तैयारियों को और बेहतर कर सकती है।

महंत नरेंद्र गिरी ने कहा है कि योगी आदित्यनाथ की सरकार ने माघ मेले में सनातन धर्म की परंपराओं का पालन करते हुए कार्य किया है। जिसकी सभी श्रद्धालु कल्पवासी और संत महात्मा सराहना कर रहे हैं। महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है कि सीएम योगी ने अपने आत्मबल से माघ मेला कराने का निर्णय लिया और सीएम का यह निर्णय पूरी तरह से सही साबित हो रहा है।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static