पिता की 73वीं जयंती पर अनुप्रिया बोलीं- पटेल का सपना तभी पूरा होगा जब विधानसभा और लोकसभा में हमारी ताकत बढ़ेगी

punjabkesari.in Sunday, Jul 03, 2022 - 12:44 PM (IST)

लखनऊ: अपना दल (सोनेलाल) की राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने शनिवार को अपना दल के संस्थापक डॉक्टर सोनेलाल पटेल की जयंती पर कहा कि डॉक्टर साहब का सपना तभी पूरा होगा, जब विधानसभा व लोकसभा में हमारी ताकत बढ़ेगी।

शनिवार को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान के सभागार में अपना दल के संस्थापक और अपने पिता डॉक्टर सोनेलाल पटेल की 73वीं जयंती पर आयोजित समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए अनुप्रिया पटेल ने कहा कि लोकतंत्र के चारो स्तम्भों में जब तक आबादी के अनुसार सर्व समाज की भागीदारी नहीं होगी, डॉक्टर साहब का मिशन अधूरा रहेगा। उन्होंने कहा कि 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में कड़ी मेहनत का आह्वान करते हुए पटेल ने कहा कि डॉक्टर साहब का सपना तभी पूरा होगा, जब विधानसभा व लोकसभा में हमारी ताकत बढ़ेगी। आप सभी जानते हैं कि पिछड़े, वंचित व कमेरा समाज की समस्याओं का समाधान तभी होगा, जब सत्ता की चाबी आपके हाथ में होगी।

उन्होंने कहा कि डॉक्टर साहब के बताए सामाजिक न्याय के रास्ते पर चलते हुए पार्टी ने कम समय में अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल की है। यह आप सब कार्यकर्ताओं की कड़ी मेहनत का प्रतिफल है कि आज मंच पर दो सांसद, 12 विधायक, एक विधान परिषद सदस्य, एक जिला पंचायत अध्यक्ष व विभिन्न आयोगों के सदस्य मौजूद हैं। पार्टी के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री आशीष पटेल ने कहा कि डॉक्टर साहब ने भगवान बुद्ध के शांति के मार्ग को चुना था, लेकिन दुख है कि उनके कुछ तथाकथित अनुयायी जयंती के दिन ही बवाल करने की साजिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह की साजिशों से हम लोगों को बचते हुए पार्टी के विकास पर ध्यान देना है और पार्टी की विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाना है।

उनका इशारा शनिवार को जयंती समारोह में इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में कार्यक्रम आयोजित करने को लेकर अनुप्रिया पटेल की मां के नेतृत्व वाले अपना दल कमेरावादी की अध्यक्ष कृष्णा पटेल और विधायक पल्लवी पटेल द्वारा लगाए गए आरोपों और धरना प्रदर्शन की ओर था। जयंती समारोह में डॉक्टर सोनेलाल पटेल की सबसे छोटी बेटी अमन पटेल समेत कई प्रमुख नेता, सांसद, विधायक भी मंच पर मौजूद थीं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static