बाढ़ राहत शिविर में रह रहे लोगों को घर में चोरी होने का सता रहा डर, 7 दिनों से हैं दूर

9/22/2019 4:11:57 PM

प्रयागराजः प्रयागराज में आए जलप्रलय ने कई हजार लोगों को घर से बेघर कर दिया है। खतरे के निशान से तकरीबन 1 मीटर ऊपर बह रही गंगा और यमुना ने निचले इलाकों के घरो कों अपने आगोश में ले लिया है। जिसकी वजह से हजारों लोग सरकार द्वारा बनाए गए बाढ़ राहत शिविर में रहने को मजबूर हैं।
PunjabKesari
प्रयागराज शहर में 11 बाढ़ राहत शिविर बनाए गए हैं। यहां हजारों की संख्या में लोग रह रहे हैं कुछ लोग अपना गृहस्थी का समान साथ में लेकर रह रहे हैं, तो कुछ लोगों ने अपना समान घर पर ही छोड़ कर रखा है। बाढ़ राहत शिविर में रह रहे लोगों को अब अपने घर में चोरी होने का डर सता रहा है। तकरीबन 1 हफ्ते से रह रहे इस शिविर में उनको अपने घर की याद आ रही है।
PunjabKesari
साथ ही उनका कहना है कि इस शिविर में कोई दिक्कत तो नहीं, लेकिन एक हफ्ते से दूर अपने घर से दूर रहने को मजबूर हैं। हमारी टीम ने कैंट क्षेत्र के बाढ़ राहत शिविर का जायजा लिया। ये वहीं शिविर है जहां सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राहत सामग्री बांटी थी और इसी शिविर में रहने वाले लोगों से बात की थी इस शिविर में बाढ़ प्रभावित के कई मोहल्ले के लोग रह रहे है।
PunjabKesari
सीएम योगी से मिलने के बाद जब हमने इनसे बातचीत की तो उन्होंने कहा कि ये हर साल की समस्या है, लेकिन इस साल पानी कुछ ज्यादा बढ़ गया। अब सभी लोग यही अपील कर रहे हैं कि इस इलाके में एक बांध बनाया जाए जिसकी बाद बाढ़ का पानी इस इलाके में नहीं आएगा।



 


Tamanna Bhardwaj

Related News