Prayagraj Railway Station: इंटरनेशनल एयरपोर्ट की तर्ज पर बन रहा है प्रयागराज रेलवे स्टेशन, 950 करोड़ की लागत से बदलेगी सूरत

punjabkesari.in Saturday, Jun 03, 2023 - 04:16 PM (IST)

Prayagraj Railway Station( सैय्यद आकिब रजा) : जैसे जैसे वक्त बीत रहा है वैसे वैसे प्रयागराज रेलवे स्टेशन की तस्वीर भी बदलती हुई नजर आने लगी है। करीब 950 करोड़ की अधिक की लागत से प्रयागराज रेलवे स्टेशन को इंटरनेशनल एयरपोर्ट की तर्ज पर सजाया जा रहा है। परंपरा के साथ-साथ विकास की मुहिम पर सिविल लाइंस साइड के साथ ही सिटी साइड में कार्य शुरू हो गया है। इसमें दोनों ओर ही स्टेशन की बिल्डिंग बननी शुरू हो गई है। स्टेशन का विकास कुछ इस तरह से होगा कि कहीं भी यात्रियों का क्रास मूवमेंट न हो। फिलहाल रेलवे ने संपूर्ण काम 48 माह और वर्ष 2025 के महाकुंभ के पूर्व कुछ कार्य पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। प्रयागराज जंक्शन पर यात्रियों को इंटरनेशनल एयरपोर्ट सरीखी विश्वस्तरीय सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। इसमें यात्रियों के लिए स्काईवॉक, एस्केलेटर और लिफ्ट भी लगाई जाएगी।
PunjabKesari
लिफ्ट,एस्केलेटर, रैंप आदि से यात्रियों को पहले कॉनकोर में मिलेगा प्रवेश
अधिकारियों ने बताया कि स्टेशन पुनर्विकास के बाद प्रयागराज जंक्शन की पूरी तस्वीर ही बदल जाएगी। उत्तर मध्य रेलवे के सीपीआरओ हिमांशु उपाध्याय ने बताया कि यहां कॉनकोर (हाल) का निर्माण होगा। लिफ्ट और एस्केलेटर, रैंप आदि से यात्रियों को पहले कॉनकोर में प्रवेश दिलाया जाएगा जहां से यात्री नीचे प्लेटफार्म पर उतरेंगे। इसके लिए उन्हें लिफ्ट, एस्केलेटर की सुविधा मिलेगी। एक कॉनकोर से प्लेटफार्म नंबर एक से छह जबकि दूसरे कॉनकोर से प्लेटफार्म नंबर सात से दस तक की कनेक्टिविटी होगी।
PunjabKesari
600 चार पहिया वाहन एक साथ कर सकेंगे पार्क
प्रयागराज जंक्शन के पुनर्विकास के बाद यहां पार्किंग का दायरा बढ़ जाएगा। फिलहाल यहां 100 चार पहिया वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था है, लेकिन पुनर्विकास के बाद यहां 600 चार पहिया वाहन दोनों साइड में खड़े हो सकेंगे। इसके लिए मल्टीलेवल पार्किंग बनेगी। प्रयागराज जंक्शन का पुनर्विकास अनुमानित भीड़ एवं ट्रैफिक लोड को देखते हुए किया जा रहा है। इसी के अनुसार इसकी डिजाइन भी तैयार की गई है। स्टेशन के पुनर्विकास सहित यहां रिटायरिंग रूम, प्रतीक्षालय, पार्सल ऑफिस, फूड प्लाजा आदि शिफ्ट किया जाएगा। 20,483 स्क्वायर मीटर एरिया में जंक्शन के पुनर्विकास का काम 48 माह में होना है।
PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static