कांग्रेस के चुनावी छलावे और लोकलुभावन वादे पर कौन करेगा विश्वास : मायावती

10/22/2021 10:55:28 AM

लखनऊ, 22 अक्टूबर (भाषा) बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने शुक्रवार को कांग्रेस के चुनावी वादों को जनता से छल और लोकलुभावन करार देते हुए सवाल उठाया कि इन पर कौन व कैसे विश्वास करेगा, साथ ही उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और समाजवादी पार्टी (सपा) पर भी निशाना साधा है।

बसपा प्रमुख मायावती ने शुक्रवार को ट्वीट किया ''''कांग्रेस ने चुनावी छलावे के तहत भाजपा व सपा की तरह ही अनेक प्रकार के लोक लुभावन वादे करने शुरू कर दिए हैं, जिसके तहत इस पार्टी ने उत्तर प्रदेश में सरकार बनने पर उत्तीर्ण छात्राओं को स्मार्टफोन व स्कूटी देने की बात कही है, लेकिन मूल प्रश्न यह है कि इन पर विश्वास कौन व कैसे करे।''''
मायावती ने अगले ट्वीट में कांग्रेस शासित राजस्थान और पंजाब का उदाहरण देते हुए कहा, ''''कांग्रेस की राजस्थान व पंजाब में सरकार है तो क्या इन्होंने ऐसा कुछ वहां करके दिखाया है जो लोग उनकी बातों पर यकीन करे लें, नहीं किया है तो फिर लोग उनपर विश्वास कैसे करें? यही वजह है कि कांग्रेस व भाजपा आदि पार्टियों के दावों व वादों के प्रति जन विश्वास की घोर कमी है।''''
सिलसिलेवार ट्वीट में पूर्व मुख्यमंत्री ने कांग्रेस और भाजपा के वादों का उपहास उड़ाते हुए कहा, ''''जनता से छल व वादाखिलाफी के कारण कांग्रेस के बुरे दिन चल रहे हैं तथा इन्हीं कुछ खास कारणों से भाजपा के भी बुरे दिन शुरू हो चुके हैं।'''' उन्होंने दावा किया कि ’अच्छे दिन’ का सपना दिखाकर लोगों पर महंगाई, गरीबी व बेरोजगारी आदि का पहाड़ तोड़ने का खामियाजा तो भाजपा को भी भुगतना पड़ेगा।

गौरतलब है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने बृहस्पतिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा के आगामी चुनाव के बाद पार्टी की सरकार बनने पर राज्य की छात्राओं को स्मार्टफोन और इलेक्ट्रिक स्कूटी दी जाएगी।
प्रियंका ने बृहस्पतिवार को ट्वीट कर कहा, "कल मैं कुछ छात्राओं से मिली। उन्होंने बताया कि उन्हें पढ़ने व सुरक्षा के लिए स्मार्टफोन की जरूरत है। मुझे खुशी है कि घोषणा समिति की सहमति से आज उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने निर्णय लिया है कि पार्टी की सरकार बनने पर इंटर पास लड़कियों को स्मार्टफोन और स्नातक लड़कियों को इलेक्ट्रिक स्कूटी दी जाएगी।"

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News

static